Ma Ki Bagiya Mid Day Meal: स्कूलों में मध्यान्ह भोजन को बढ़ावा देने बनेगी मां की बगिया

Advertisements

जबलपुर । मध्यान्ह भोजन को लेकर विद्यार्थियों को जागरूक बनाने के लिए अब विभाग मां की बगिया तैयार करवा रहा है। इसके लिए प्राथमिक और माध्यमिक शालाओं को पांच-पांच हजार रुपये का अनुदान दिया गया है।

कार्यालय जिला पंचायत की तरफ से जनपद शिक्षा केंद्र जबलपुर, पाटन, कुंडम, शहपुरा, सिहोरा और मझौली के कुल 129 शालाओं के लिए 6.45 लाख रुपये का अनुदान दिया गया है। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने इस संबंध में शीघ्र कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इसके लिए विकासखंड स्रोत समन्वयकों के माध्यम से शाला प्रबंधन समिति के खाते में राशि ट्रांसफर कर दी गई है।

क्या होगा मां की बगिया में : विकासखंड स्रोत समन्वयक जनपद शिक्षा से प्राप्त राशि से सभी प्राथमिक और माध्यमिक शालाओं में मध्यान्ह भोजन के अंतर्गत शालाओं में बच्चों के पोषण सुधार के लिए स्कूल न्यूट्रीशियन गार्डन बनाए जाने हैं। इसके लिए राज्य की तरफ से राशि प्रदान कर दी गई है।

स्वसहायता समूह की मदद लेकर मां की बगिया बनाना है : शाला प्रबंधन समिति को इस राशि से स्वसहायता समूह की मदद लेकर मां की बगिया बनाना है। इसमें पोषक तत्व वाले फलदार पौधे और औषधीय पौधे लगाए जाने हैं ताकि बच्चे उसकी खासियत को समझकर उसका अधिक उपयोग कर पाएं।

इन जनपद में इतनी शाला :

जबलपुर ग्रामीण— 16 शाला को 80 हजार रुपये

कुंडम— 22 शाला को 1.10 लाख रुपये

पनागर— 20 शाला को एक लाख रुपये

शहपुरा— 22 शाला को 1.10 लाख रुपये

सिहोरा 15 शाला को 75 हजार रुपये

मझौली— 19 शाला को 95 हजार रुपये

पाटन— 15 शाला को 75 हजार रुपये

Advertisements