6 फेरे लेने के बाद दुल्हन बोली- नहीं करना शादी, बताया यह कारण

Advertisements

हिंदू धर्म के मुताबिक, अग्नि के सात फेरे लेते ही दूल्हा दुल्हान शादी के बंधंन में बंध जाते हैं, लेकिन क्या हो यदि 6 फेरों के बाद दी शादी रोक दी जाए। उत्तर प्रदेश में ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां छठे फेरे के बाद दुल्हन ने यह कहते हुए शादी रुकवा दी कि उसे दूल्हा पसंद नहीं है। (नीचे पढ़िए पूरा घटनाक्रम) बता दें हाल के दिनों में शादी से जुड़ी अजब-गजब खबरें सामने आई हैं। एक दुल्हन ने इसलिए शादी करने से इनकार कर दिया था क्योंकि दूल्हा बगैर चश्मे के अखबार नहीं पढ़ पया था। वहीं एक दुल्हन ने मंडप में शराबी दूल्हे से शादी करने से इन्कार कर दिया था।

इसे भी पढ़ें-  तीसरे पति को छोड़कर चौथी शादी की तैयारी, पुलिस की मौजूदगी में समझौता, तीन माह बाद होगा निकाह

यूपी के महोबा का मामला: शादी बीच में ही रोकने का ताजा मामला यूपी के महोबा का है। पंडितजी मंत्र बोल रहे थे और फेरे चल रहे थे। छठे फेके के बाद दुल्हन ने शादी से इन्कार कर दिया। दूल्हे और दुल्हन के दोस्तों और रिश्तेदारों ने उसे शादी के लिए मनाने की पूरी कोशिश की लेकिन उसने अपना फैसला बदलने से इनकार कर दिया। देखते ही देखते मामला इतना गंभीर हो गया कि आधी रात को पंचायत बुलाना पड़ी। इसके बाद दुल्हन ने अपना पक्ष रखा और दूल्हे तथा उसके रिश्तेदारों के पास वापस जाने के अलावा कोई विकल्प नहीं था।

इसे भी पढ़ें-  बड़ी खबर: कटनी पुलिस विभाग में बड़ा फेरबदल, कोतवाली तथा कटनी टीआई बदले

जब दुल्हन से पूछा गया कि उसे दूल्हे से शादी करने में दिलचस्पी क्यों नहीं है, तो उसने जवाब दिया कि वह उसे पसंद नहीं करती है। दूल्हे के पिता ने कहा कि अगर दुल्हन शादी के लिए तैयार नहीं थी तो वह शादी के अन्य रस्मों जैसे मालाओं के आदान-प्रदान में क्यों शामिल हुई। इससे पहले, सभी अनुष्ठान सामान्य रूप से हुए थे। शादी के दिन किसी तनाव या बहस के कोई संकेत नहीं मिले क्योंकि सभी उपस्थित लोग खुश मिजाज में देखे गए।

Advertisements