गंगाजल से शुद्धि कर बाल मुंडवाए, फिर छोड़ी बड़ी राजनीति पार्टी

Advertisements

पश्चिम बंगाल में करीब 200 बीजेपी कार्यकर्ता तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए। टीएमसी में जाने से पहले इन कार्यकर्ताओं ने अपने सिर के बाल तक मुंडवा लिए और यहां तक की गंगाजल छिड़क कर शुद्धिकरण भी किया। हुगली जिले में करीब 200 बीजेपी कार्यकर्ताओं के टीएमसी ज्वायन करने का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। वायरल वीडियो में नजर आ रहा है कि गंगाजल से शुद्धि के बाद बीजेपी कार्यकर्ता टीएमसी में शामिल हुए। वीडियो में नजर आ रहा है कि कुछ कार्यकर्ता अपने सिर के बाल मुंडवा रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक टीएमसी में शामिल होने से पहले इन्होंने गंगाजल छिड़क कर खुद को शुद्ध किया और कहा कि बीजेपी में जाना एक भूल थी।

इसे भी पढ़ें-  Bhopal Suicide Case: भोपाल में सूदखोरों से परेशान होकर जहर खाने वाले परिवार के पांचवे सदस्‍य की भी मौत

टीएमसी के सांसद अपारुपा पोद्दार ने कहा कि मंगलवार को पार्टी की तरफ से आरामबाग में गरीब लोगों को मुफ्त में भोजन उपलब्ध कराने को लेकर एक कार्यक्रम आयोजित की गई थी। टीएमसी सांसद का दावा है कि इसी कार्यक्रम के दौरान दलित समुदाय के कुछ सदस्यों ने कहा कि उन्होंने भाजपा में जाकर गलती कर दी और वो फिर से अपनी गलती को भूला कर टीएमसी में शामिल होना चाहते हैं। जिसके बाद एक साथ कई लोग टीएमसी में शामिल हो गए।

जवाब
आपको बता दें कि विधासनभा चुनाव में टीएमसी की जीत के बाद पश्चिम बंगाल के अलग-अलग जिलों से कई भाजपा कार्यकर्ता अब तक टीएमसी में लौट चुके हैं। इसी महीने बीरभूम जिले से एक खबर आई थी कि यहां 50 से ज्यादा बीजेपी कार्यकर्ताओं ने टीएमसी का दामन थाम लिया था। इन लोगों ने टीएमसी में वापसी कराने की मांग को लेकर पार्टी के दफ्तर के बाहर धरना प्रदर्शन भी किया था। इन लोगों ने पाला बदलने को लेकर अफसोस जाहिर करते हुए टीएमसी में वापस आने की बात कही थी।

इसे भी पढ़ें-  Coronavirus Telangana: महात्मा ज्योतिबा फुले स्कूल की 43 छात्राएं कोरोना संक्रमित, मचा हड़कंप

हालांकि, बीजेपी इस पूरे घटनाक्रम को चुनाव के बाद हुई हिंसा से जोड़ कर देखती आई है। बीजेपी की तरफ से कहा गया है कि चुनाव के बाद हुई हिंसा से बीजेपी कार्यकर्ता डरे हुए हैं और उन्हें डरा-धमका कर जबरन टीएमसी की सदस्यता दी जा रही है।

Advertisements