बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा, महिलाओं एवं बच्चों के विरूद्ध अपराध करने वालों को कड़ी सजा मिले। इसके लिए ऐसे प्रकरणों में न्यायालयों में शासन का पक्ष मजबूती से रखा जाए। प्रदेश में गत छह माह में अपहृत 5,205 बालिकाओं को उनके घर पहुंचाया गया है, जो कुल अपहृत 8,566 बालिकाओं का 60.8 फीसद है।

उन्होंने निर्देश दिए प्रत्येक बालिका को ढूंढ़कर सही सलामत उसके घर पहुंचाया जाए। बैठक में गृह मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी, अपर मुख्य सचिव गृह राजेश राजौरा आदि उपस्थित थे।