रेप के बाद किया मर्डर, फिर आत्महत्या दिखाने के लिए पेड़ से लटकाए शव, सुलझा नाबालिगों की मौत का मामला

Advertisements

असम के कोकराझार जिले में पिछले शनिवार को पेड़ से दो नाबालिग लड़कियों लाश लटकी हुई मिली थी।असम पुलिस ने अब दावा किया है कि उसने नाबालिगों की रहस्मयी मौत के मामले को सुलझा लिया है। पुलिस ने बताया, “उनके साथ बलात्कार किया गया, फिर उनकी हत्या कर दी गई और इसे आत्महत्या की तरह दिखाने के लिए उनके शवों को पेड़ से लटका दिया गया।” इस मामले में अब तक सात लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

बता दें कि राभा समुदाय की 14 और 16 वर्ष की दो लड़कियों के शव शनिवार को पेड़ से लटके पाए गए थे।

इसे भी पढ़ें-  7th Pay Commission: दिवाली से पहले सरकार का बड़ा फैसला, 1 जुलाई से केंद्रीय कर्मचारियों को मिलेगा 31 फीसदी महंगाई भत्ता

कोकराझार के एसपी प्रतीक विजय कुमार थुबे ने कहा, “हमने मामले में सात आरोपियों को गिरफ्तार किया है। उनमें से तीन ने नाबालिगों के साथ बलात्कार किया था और उन्हें मारने के बाद पेड़ पर लटका दिया था। उन्होंने अपना अपराध कबूल कर लिया है। रविवार को एक विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया गया था और 72 घंटों के भीतर हमने मामले को सुलझा लिया है।”

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने भी ट्विटर पर आरोपी की गिरफ्तारी की जानकारी दी।

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर कहा, “दो नाबालिग आदिवासी लड़कियों के बलात्कार और हत्या को सुलझा लिया गया है।

इसे भी पढ़ें-  Dipawali Shopping Shub Muhurat: दीपावली से पूर्व 3 नवंबर तक खरीदारी के 6 बेहद शुभ योग

@lrbishnoiassam, IGP, BTR ने मुझे जांच के परिणाम के बारे में बताया। मैंने रविवार को उनके घर का  दौरा किया था। यह जानकर बहुत संतुष्टि हो रही है कि अपराधियों की पहचान कर ली गई”

पुलिस ने शनिवार को बताया था कि असम के कोकराझार जिले के एक दूरदराज गांव में 16 और 14 साल की दो नाबालिगों के शव पेड़ से लटके पाए गए। मुख्यमंत्री रविवार को दो नाबालिग बच्चियों के घर गए थे और परिवार को न्याय दिलाने का आश्वासन दिया था. दोनों नाबालिग एक ही परिवार की थी।

Advertisements