बड़ी खबर: अब गरीबों को थैले में मिलेगा उचित मूल्य की दुकान से राशन

Advertisements

भोपाल। मध्य प्रदेश में गरीबों को उचित मूल्य की दुकान से राशन थैले में दिया जाएगा। इस पर टीकाकरण सहित सरकार की अन्य योजनाओं की जानकारी दर्ज रहेगी। यह निर्णय मंत्रियों के साथ मंथन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किया।

उन्होंने बताया नवंबर 2021 तक सार्वजनिक वितरण प्रणाली के उपभोक्ताओं को निशुल्क राशन मिलेगा। उधर, मंत्रियों ने इस मंथन को सार्थक बताते हुए कहा, इससे प्रदेश के विकास की दिशा में तेजी से काम होगा।

बैठक में मुख्यमंत्री सचिवालय के अधिकारियों के अलावा कोई भी मौजूद नहीं था। सूत्रों के मुताबिक अनौपचारिक चर्चा में तय किया गया कोरोना से दिवंगत अधिकारी-कर्मचारी के स्वजन को उनके घर जाकर अनुकंपा नियुक्ति पत्र दिए जाएंगे। इससे जनता में सरकार को लेकर सकारात्मक संदेश जाएगा। विदेशों में अध्ययनरत अन्य पिछड़ा वर्ग के युवाओं को बतौर आइकान प्रस्तुत किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें-  अपनी ही शादी में धुंए के छल्ले बनाती दिखी दुल्हन, Video

आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश के लिए बने नौ मंत्री समूहों को एक सप्ताह में बैठक कर रिपोर्ट देनी होगी। जलाशय खाली होने के बाद नीलाम करें भूमि बैठक में वन मंत्री विजय शाह ने सुझाव दिया जलाशयों में पानी खत्म होने के बाद भूमि खेती के लिए नीलाम की जाए।

अभी इन पर कब्जा कर खेती की जाती है। नीलामी से राजस्व भी मिलेगा। अनुपयोगी शासकीय भूमि नीलाम करने, गृह निर्माण समितियों द्वारा उपयोग नहीं करने पर वापस लेने, रेत के ठेकों में स्थानीय और छोटे कारोबारियों की भागीदार सुनिश्चित करने, उद्योगों में रोजगार के लिए युवाओं को कौशल विकास का प्रशिक्षण दिलाने, छोटे और अजा-जजा वर्ग के किसानों पर ध्यान देने के सुझाव दिए गए।

इसे भी पढ़ें-  योगी बैठ्या है, बक्कल तार दिया करे, किसान आंदोलन पर यूपी बीजेपी के ट्वीट से बवाल

कुछ मंत्रियों ने ग्रामीण क्षेत्रों में स्कूल खोलने का सुझाव दिया, जिस पर मुख्यमंत्री ने कहा शिक्षा के लिए गठित मंत्री समूह इस विचार करके अनुशंसा देगा।

Advertisements