यमन में नाव पलटने से बड़ा हादसा, मौके से 25 लोगों के शव मिले

Advertisements

होदेइदाह,। सोमवार को यमन में नाव पलटने के कारण 25 लोगों की मौत हो गई। सभी के शव हादसे की जगह से बरामद कर लिए गए हैं। क्षेत्रिय अधिकारियों के मुताबिक सभी मृतक जिस नाव पर सवार थे, उसमें करीब 200 लोग यात्रा कर रहे थे। सभी मृतक प्रवासी बताए जा रहे हैं। मृतकों के शव एक मछुआरे को रास अल-आरा के पानी में तैरते हुए मिले हैं।

न्यूज एजेंसी से बातचीत में उसने बताया कि लाहिज के दक्षिणी प्रांत में रास अल-आरा के क्षेत्र से बहुत बड़ी तादाद में मानव तस्करी होती है। इसीलिए यहां के लोग इस जगह को “गेट ऑफ हेल” भी कहते हैं। मछुआरे के मुताबिक जिबूती को यमन से अलग करने वाले बाब अल-मंडब में पाए गए मृतक अफ्रीकी मूल के प्रतीत होते हैं।

इसे भी पढ़ें-  केन्द्र सरकार का अहम फैसला, मेडिकल एजुकेशन में OBC को 27% और EWS को 10% आरक्षण

लाहिज प्रांतीय प्राधिकरण के जलील अहमद अली ने बताया कि, यमनी तस्करों के मुताबिक, ये हादसा दो दिन पहले हुआ था। जिस वक्त नाव पलटी उसमें करीब 160 से 200 लोग सवार थे। लेकिन अभी तक साफ नहीं है की हादसे में कितने लोगों की मौत हुई है। यूएन इंटरनेशनल ऑर्गेनाइजेशन फॉर माइग्रेशन ने

भारत के साथ उन्नत रणनीतिक रिश्ता बनाएगा इजरायल के नए प्रधानमंत्री नाफ्ताली बेनेट। एजेंसी।
India and Israel: भारत के साथ बेहतर रणनीतिक रिश्ता बनाएगा इजरायल, PM बनने के अगले ही दिन बेनेट का एलान
यह भी पढ़ें
एएफपी को पुष्टि की है कि एक नाव उसी इलाके में डूबी है। लेकिन वो अभी घटना को लेकर जानकारी जुटाने में लगे हुए हैं।

इसे भी पढ़ें-  योगी बैठ्या है, बक्कल तार दिया करे, किसान आंदोलन पर यूपी बीजेपी के ट्वीट से बवाल

यमन में भयंकर युद्ध के बावजूद प्रवासी सऊदी अरब और अन्य पड़ोसी तेल-समृद्ध राज्यों में काम की उम्मीद में जाते है। वहां की अर्थव्यवस्था लाखों विदेशी मजदूरों पर निर्भर करती है।

Advertisements