मुंबई में दर्दनाक हादसा, इमारत ढहने से अब तक 11 लोगों की मौत, 8 गंभीर रूप से घायल

Advertisements

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में मॉनसून की पहली बारिश की वजह से बुधवार की देर रात एक बड़ा हादसा हो गया और इमारत ढहने से कम से कम 11 लोगों की मौत हो गई।

बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने सूचना दी कि बुधवार देर रात मुंबई के मलाड पश्चिम के न्यू कलेक्टर परिसर में एक आवासीय इमारत गिरने से कम से कम 11 लोगों की मौत हो गई और आठ अन्य घायल हो गए।

बीएमसी के अनुसार, इस घटना ने पास की एक आवासीय ढांचे को भी अपनी चपेट में ले लिया। नगर निगम ने कहा कि इसने क्षेत्र में एक और आवासीय संरचना को भी प्रभावित किया जो अब खतरनाक स्थिति में है।

इसे भी पढ़ें-  अजब गजब शादी: दुल्हन ने दूल्हे को काले चश्मे में देखा तो बोली अखबार पढ़ो

प्रभावित इमारतों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित निकाला जा रहा है। बताया जा रहा है कि दुर्घटनाग्रस्त इमारत में फंसे लोगों को बचाने के लिए सर्च एंड रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। घायलों को बीडीबीए अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है।

मुंबई में जोन 11 के पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) विशाल ठाकुर ने कहा कि महिलाओं और बच्चों सहित 15 लोगों को बचा लिया गया है और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मलबे में और लोगों के फंसे होने की आशंका है। लोगों को बचाने के लिए टीमें यहां मौजूद हैं। वहीं, घटना स्थल पर पहुंचे महाराष्ट्र के मंत्री असलम शेख ने कहा कि बारिश के कारण इमारतें गिर गई हैं। बचाव अभियान जारी है। घायल लोगों को अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया है। इमारतों के मलबे को हटाया जा रहा है ताकि यह देखा जा सके कि और लोग इसके नीचे फंसे हैं या नहीं।

मौके पर मौजूद स्थानीय निवासी सिद्दीकी ने बताया कि घटना रात करीब 10 बजे हुई। चश्मदीद ने कहा ‘यह घटना रात करीब 10:15 बजे हुई। दो लोगों द्वारा हमें इमारत छोड़ने के लिए कहने के बाद मैं बाहर आया। जैसे ही मैं बाहर निकल रहा था, मैंने देखा कि हमारी इमारत के पास एक डेयरी सहित तीन इमारतों को ध्वस्त कर दिया गया था।’

Advertisements