किसानों को तोहफा : खरीफ की फसलों के लिए एमएसपी बढ़ी, केंद्रीय कैबिनेट का फैसला

Advertisements

केंद्र सरकार ने बुधवार को बाजार सत्र 2021-22 के लिए खरीफ की फसलों पर एमएसपी (न्यूनतम समर्थन मूल्य) को अनुमति दे दी। केंद्र सरकार ने कहा कि पिछले साल के मुकाबले एमएसपी में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी तिल (452 रुपये प्रति कुंतल) में की गई है। इसके बात तुअर और उड़द (दोनों 300 रुपये प्रति कुंतल) आते हैं।

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने खरीफ की फसलों पर 50 फीसदी तक एमएसपी बढ़ाने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार पिछले सात साल से किसानों के हित में फैसले ले रही है और उनकी समस्याओं के समाधान के लिए चर्चा करने के लिए हर वक्त तैयार है। 

इसे भी पढ़ें-  School Reopen: मध्य प्रदेश में एक जुलाई से खुल सकते हैं स्कूल!

तोमर ने कहा कि केंद्र सरकार के इस फैसले के बाद धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य पिछले साल के मुकाबले 72 रुपये बढ़कर 1940 रुपये प्रति कुंतल हो गया है। पिछले साल यह राशि 1868 रुपये प्रति कुंतल थी। उल्लेखनीय है कि एमएसपी वह दर होती है जिसपर सरकार किसानों से खाद्यान्न खरीदती है। 

Advertisements