भारत में कोरोना से हाहाकार पर अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस बोलीं- हम और सहायता भेजने के लिए तैयार

Advertisements

भारत में कोरोना वायरस से भयावह होती स्थिति से पार पाने के लिए अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने हर संभव मदद का आश्वासन दिया है। कमला हैरिस ने शुक्रवार को कहा कि महामारी की शुरुआत में भारत ने अमेरिका की मदद की थी, अब हम भारत की सहायता के लिए खड़े हैं।

मदद का आश्वासन देते हुए कमला हैरिस ने कहा कि ‘महामारी की शुरुआत में, जब हमारे अस्पताल के बेड कम पड़ने लगे तब भारत ने सहायता भेजी थी। आज, हम भारत को उसकी ज़रूरत के समय में मदद करने के लिए दृढ़ हैं, हम यह एशियाई क्वाड के सदस्यों के रूप में, वैश्विक समुदाय के हिस्से के रूप में और भारत के दोस्त के रूप में कर रहे हैं।’

इसे भी पढ़ें-  धर्मांतरण के धंधेबाजों पर एक्शन में योगी: लगेगा NSA, जब्त होगी प्रॉपर्टी

कमला हैरिस ने कहा कि हमने भारत को रिफिल करने योग्य ऑक्सीजन सिलेंडर दिए हैं और देने वाले हैं, हमने ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भी दिए हैं, और देने वाले हैं। इसके साथ ही N95 मास्क भी दिए हैं। साथ ही कोविड रोगियों के इलाज के लिए रेमेडिसविर की खुराक भी दी है। हम आगे भी और अधिक मदद करने के लिए तैयार हैं।

 

वहीं, भारत में कोरोना से होनी वाली मौतों पर कमला हैरिस ने कहा कि यह दिल को दहला देने वाली घटनाओं से कम नहीं है। उन्होंने कहा कि आपमें से जिन्होंने अपने प्रियजनों को खोया है, मैं अपनी गहरी संवेदनाएं भेजती हूं। कमला हैरिस ने कहा कि 26 अप्रैल को राष्ट्रपति जो बाइडन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की और 30 अप्रैल तक संयुक्त राज्य अमेरिका के सैन्य सदस्य और नागरिक वहां राहत दे रहे थे।

इसे भी पढ़ें-  कैबिनेट फेरबदल की कवायद तेज? पीएम मोदी ने मंत्रियों संग की हाई लेवल बैठक, अमित शाह और नड्डा भी थे मौजूद

हैरिस ने कहा कि भारत और अन्य देशों को अपने लोगों को टीकाकरण में तेजी लाने में मदद करने के लिए हमने कोविड-19 वैक्सीन पर पेटेंट को निलंबित करने के लिए पूर्ण समर्थन की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि भारत और अमेरिका दुनिया में सबसे अधिक कोविड के मामले हैं।

 

 

 

 

Advertisements