Katni: माधवनगर छात्रावास में शुरू हुआ कोविड केयर सेंटर 43 बिस्तरों की व्यवस्था, इलाज के लिए डॉक्टरों और नर्सिंग स्टाफ की टीम तैनात

Advertisements

कटनी के माधवनगर छात्रावास में कोविड केयर सेंटर
43 बिस्तरों की व्यवस्था, इलाज के लिए डॉक्टरों और नर्सिंग स्टाफ की टीम के साथ तैयार हुआ।

कटनी। जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की लगातार संख्या बढऩे और रविवार को एक साथ तीन मौतों के बाद अब स्वास्थ्य विभाग हरकत में आया है। जिला चिकित्सालय में बेड फुल होने के बाद अब स्वास्थ्य विभाग द्वारा माधवनगर स्थित बालक छात्रावास में कोविड केयर सेंटर शुरू किया गया है।

यहां 43 बिस्तरों की व्यवस्था करते हुए डॉक्टरों और नर्सिंग स्टाफ की टीम तैनात की गई है, फिलहाल अभी यहां एक ही कोरोना मरीज भर्ती है, जिसका उपचार चल रहा है। विदित हो कि जिले में पिछले कुछ दिनों से कोरोना संक्रमण लगातार कहर बरपा रहा है।

इसे भी पढ़ें-  बाथरूम में टॉयलेट करने गई थी सोफी, 27 सेकेंड्स बाद बच्चा लेकर निकली बाहर

हर दिन औसतन एक सैकड़ा से अधिक लोग इस महामारी का शिकार हो रहे हैं। होली पर्व के बाद से यह सिलसिला अब तक लगातार जारी है। एक अपै्रल से लेकर अब तक करीब एक हजार से अधिक मरीज मिल चुके हैं। कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या अचानक बढऩे से स्वास्थ्य विभाग भी चिंतित नजर आ रहा था।

आलम यह था कि जिला चिकित्सालय में कोविड वार्ड और संदिग्ध वार्ड मरीजों से फुल हो गए थे। स्वास्थ्य विभाग द्वारा अस्पताल में वैकल्पिक व्यवस्था बनाते हुए मरीजों को भर्ती किया जा रहा है लेकिन इसके बावजूद बड़ी संख्या में ऐसे मरीज थे, जिन्हें भर्ती करते हुए इलाज करना आवश्यक था।

इसे भी पढ़ें-  अफगानिस्तान: काबुल में स्कूल के पास हुआ धमाका, 25 लोगों की मौत, 20 घायल

वैक्सीनेशन सेंटर और सेम्पल कलेक्शन सेंटर को खाली कराकर यहां भी कोविड मरीजों को भर्ती किया गया। लेकिन हर दिन बड़ी संख्या में कोरोना मरीज मिलने के बाद माधवनगर स्थित छात्रावास में कोविड केयर सेंटर खोलने का निर्णय लिया गया। बताया जाता है कि छात्रावास में कोविड केयर सेंटर शुरू कर दिया गया है। यहां 43 बिस्तरों की व्यवस्था की गई है। फिलहाल 6 मरीज को भर्ती करते हुए इलाज किया जा रहा है।

माधवनगर स्थित छात्रावास में कोविड केयर सेंटर शुरू किया यगा है। यहां डॉक्टरों और नर्सों की ड्यूटी लगाई गई है। 43 बेड बनाए गए है। आज 12 मरीजों को चिन्हित किया गया था। अभी तक 6 मरीज भर्ती हुए है।
डॉ. प्रदीप मुढिय़ा, सीएमएचओ

इसे भी पढ़ें-  Transfer in Madhya Pradesh: उपचुनाव के बाद दमोह कलेक्टर तरुण राठी और एसपी चौहान को हटाया

Posted Ashish Raikwar

Advertisements