Weekend Lockdown-Night Curfew: महाराष्ट्र में वीकेंड लॉकडाउन, बिहार में धार्मिक स्थल बंद, जानें कितने गंभीर हैं हालात!

Advertisements

नई दिल्ली, एजेंसियां। भारत ने शनिवार को कोरोना वायरस के रिकॉर्ड 1.45 लाख से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं। महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, गुजरात, केरल और पंजाब में रोजाना मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। संक्रमण की दूसरी लहर ने राज्यों को सख्त पाबंदियां थोपने पर मजबूर कर दिया है। महाराष्ट्र सरकार ने हालात को काबू में करने के लिए वीकेंड लॉकडाउन का एलान किया है। राजस्थान के 9 शहरों और कर्नाटक ने सात जिलों में नाइट कर्फ्यू लगा दिया। ओडिशा सरकार ने छत्तीसगढ़ सीमा को सील करने का निर्णय लिया है। इसके साथ ही छत्तीसगढ़ से रेल व हवाई सेवा पर भी पूर्ण प्रतिबंध रहेगा।

महाराष्ट्र

राज्य में कोरोना विस्पोट को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने वीकेंड लॉकडाउन लगाया है। इसके तहत शुक्रवार रात 8 बजे से सोमवार सुबह 7 बजे तक पाबंदियां लागू रहेंगी। इस दौरान सभी आवश्यक सेवाओं को छूट दी गई है। चिकित्सा दुकानों और दूध केंद्रों को छोड़कर अन्य सभी दुकानें और वाणिज्यिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से भोजन की होम डिलीवरी की अनुमति दी गई है। आदेश में कहा गया है कि लोग फूड पार्सल लेने के लिए होटल और रेस्टोरेंट में नहीं जा सकते। छात्रों को माता-पिता के साथ परीक्षा देने की अनुमति दी गई है।

इसे भी पढ़ें-  अजब गजब शादी: दुल्हन ने दूल्हे को काले चश्मे में देखा तो बोली अखबार पढ़ो

बिहार

बिहार में सभी धार्मिक स्थल आमजन के लिए तीस अप्रैल तक बंद कर दिए गए हैं। निजी दफ्तर 35 फीसद उपस्थिति के साथ ही चलेंगे, औद्योगिक प्रतिष्ठानों को इससे छूट मिली है। सार्वजनिक परिवहन अपनी सिटिंग क्षमता का 50 फीसद ही इस्तेमाल करेंगे। राज्य में उन लोगों के आने पर कोई रोक नहीं है, जिन्हें कोरोनारोधी टीके की दोनों डोज लग चुकी है।

उत्तर प्रदेश

यूपी के चार जिलों लखनऊ, वाराणसी, प्रयागराज व कानपुर नगर में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए यहां के सरकारी व निजी कार्यालयों में अब आधे कर्मचारियों को ही दफ्तर बुलाया जाएगा। बाकी 50 फीसद कर्मचारी घर पर ही रहकर आफिस का काम करेंगे। रोस्टर के अनुसार कर्मचारियों से काम लिया जाएगा। 30 अप्रैल तक इन चारों जिलों में यह व्यवस्था लागू रहेगी।

इसे भी पढ़ें-  बड़ी खबर: कटनी उपजेल में विचाराधीन बंदी ने फांसी लगाकर दी जान

मध्यप्रदेश

मध्यप्रदेश के सतना जिला प्रशासन ने एक बार फिर अपने अधिकार क्षेत्र वाले चित्रकूट में लाकडाउन लगा दिया है। 60 घंटे का लाकडाउन सोमवार को पड़ रही चैत्र अमावस्या से ठीक पहले लगा है। हालांकि, सोमवार सुबह छह बजे लाकडाउन की अवधि समाप्त हो जाएगी, लेकिन अमावस्या मेले पर प्रतिबंध रहेगा। संतों ने अपील की है कोरोना से बचने के लिए भक्त घरों से ही भगवान कामतानाथ का पूजन करें। चित्रकूट नहीं आएं। उधर, उप्र क्षेत्र के चित्रकूट में भी मेला में भीड़ रोकने को लेकर तैयारी चल रही है।

राजस्थान

राज्य में कोरोना की रफ्तार को रोकने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार से 30 अप्रैल तक राजस्थान के 9 शहरों में नाइट कर्फ्यू लगाया है। राजस्थान सरकार के एक आदेश के अनुसार अजमेर, अलवर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर, जयपुर, जोधपुर, कोटा और अबू रोड में रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू रहेगा, जबकि उदयपुर में नाइट कर्फ्यू शाम 6 बजे से सुबह 6 बजे तक लागू रहेगा।

इसे भी पढ़ें-  इमरान खान बोले- कश्मीर मसला सुलझ जाए तो परमाणु बम जरूरी नहीं, उइगरों पर बोलती बंद

कर्नाटक

कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए कर्नाटक सरकार ने गुरुवार को राज्य के सात जिलों में शनिवार रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू लगा दिया है। बेंगलुरु, मैसूरु, मंगलुरु, कलबुर्गी, बीदर, तुमकुर और उडुपी में 20 अप्रैल तक कर्फ्यू लागू रहेगा। इस दौरान आवश्यक सेवाओं को छूट दी जाएगी। वहीं, बेंगलुरु के विभिन्न रेस्तरां मालिकों ने राज्य सरकार से रात के कर्फ्यू के समय पर पुनर्विचार करने का आग्रह किया है।

ओडिशा

ओडिशा में भी कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने गुरुवार को 10 अप्रैल से छत्तीसगढ़ सीमा को सील करने का निर्णय लिया है। इसके साथ ही छत्तीसगढ़ से रेल व हवाई सेवा पर भी पूर्ण प्रतिबंध रहेगा।

Advertisements