Coronavirus।  कोरोना थाना और हवालातों तक पहुंच गया है। शहर के विभिन्न थानो में करीब 100 पुलिसकर्मी संक्रमित हैं। 20 से ज्यादा पुलिसकर्मी और उनके परिजन अस्पतालों में भर्ती है। कईं पुलिसकर्मी तो मुलजिम पकड़ने,पूछताछ करने में संक्रमित हुए है।

संक्रमण बढ़ने पर अफरों ने धरपकड़ के विशेष अभियानों पर रोक लगा दी। हवालात,हथकड़ियों को सैनिटाइज करवाया जा रहा है।

पश्चिम क्षेत्र के एसपी महेशचंद जैन ने सभी थानों में पुलिसकर्मियों को काढ़ा पीना अनिवार्य कर दिया। गुरुवार को एसपी ने टीआइ और सीएसपी को भाप की मशीनें बांटी। एसपी के मुताबिक पुलिसकर्मी दिनभर बाहर रहते है.।

थानों में कईं लोगों से सामना होता है. लिहाजा सभी थानों में एक एक भाप की मशीन रखी गई है ताकि पुलिसकर्मी प्रतिदिन भाप ले सकें। उधर पूर्वी क्षेत्र के एसपी आशूतोष बागरी ने थानों में बडी पेयर बनाने के निर्देश दिए हैं. एसपी के मुताबिक प्रत्येक पुलिसकर्मी पर बडी पेयर बना लें एक दूसरे का खयाल रखें। साथी की तबीयत खराब होने पर तत्काल टीआइ को बताएं।

इसे भी पढ़ें-  कर्नाटक में लगेगा लॉकडाउन? मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने आज बुलाई आपात बैठक, हो सकता है बड़ा फैसला

उपचार के लिए परेशान हो रहे पुलिसकर्मी

उधर पुलिसकर्मियों को कोरोना के साथ उपचार के लिए भी जंग लड़ना पड़ रही है। पुलिसकर्मियों का आरोप है कि उपचार के लिए भारी मशक्कत करना पड़ रही है। मप्र स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत इंदौर में सिर्फ पांच अस्पतालों से अनुबंध है। जबकी इन अस्पतालों में जगह ही नहीं है और मजबूरन अधिक रुपये देकर उपचार करवाना पड़ रहा है।