हर दिन नया रिकॉर्ड, देश में पहली बार एक दिन में 1.26 लाख से अधिक नए केस, जानें कहां-कैसी पाबंदियां

Advertisements

भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर का कहर काफी विकराल होता दिख रहा है। बुधवार को एक दिन में कोरोना वायरस के मामलों ने सारे रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिए और सबसे अधिक 1.25 लाख का आंकड़ा पार कर लिया।

महामारी की शुरुआत से ही अब तक ऐसा पहली बार है, जब एक दिन में 1 लाख 26 हजार से अधिक नए केस सामने आए हैं। बुधवार को लगातार दूसरे दिन कोरोना वायरस के सबसे अधिक मामले दर्ज किए गए।

 

मंगलवार को जहां 1 लाख 15 हजार से अधिक केस सामने आए थे, वहीं बुधवार को यह आंकड़ा करीब 1 लाख 26 हजार से अधिक हो गया। कोरोना के बढ़ते इस कहर को देखते हुए अब पाबंदियां लौट आई हैं। कहीं लॉकडाउन तो कहीं नाइट कर्फ्यू का ऐलान हो गया है।

इसे भी पढ़ें-  उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री कार्यालय के कई कर्मचारी-अधिकारी पॉजिटिव, CM योगी आदित्यनाथ ने खुद को आइसोलेट किया

मंगलवार को छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में नौ अप्रैल से 19 अप्रैल तक पूर्ण लॉकडाउन का ऐलान किया गया। वहीं पंजाब सरकार ने राज्यव्यापी नाइट कर्फ्यू को 30 अप्रैल तक बढ़ा दिया।

यहां तक कि बेंगलुरु ने भी शहर में स्वीमिंग पूल और जिम सेंटरों को बैन कर दिया है। इसके अलावा, आज यानी गुरुवार से यूपी की राजधानी लखनऊ, कानपुर समेत कई शहरों में नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया गया है।

देश में कोरोना की दूसरी लहर ने कोरोना की पहली लहर के पीक को पार कर लिया है, जहां सितंबर 2020 में 93 हजार के आसपास केस आते थे, वहीं अभी देश में औसतन 100761 नए दैनिक मामले सामने आ रहे हैं। इसका मतलब है कि दूसरी लहर अपने पीक की ओर बढ़ रही है।

इसे भी पढ़ें-  ऐसे हारेगा कोरोना? वीकेंड लाकडाउन लागू करवाने गए अधिकारियों पर लोगों ने किया हमला

देश में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या भी 9 लाख के आंकड़े को पार कर गई है। मंगलवार को यह आंकड़ा 8 लाख पार था। इस तरह से हर दिन कोरोना एक नया रिकॉर्ड बना रहा है।

मुंबई, चंडीगढ़ के बाद मंगलवार को दिल्ली में नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया गया। दिल्ली में 30 अप्रैल तक पाबंदियां लागू की गई हैं। कोरोना की वजह से सबसे अधिक हालत खराब महाराष्ट्र की है, जहां भारत के कुल कोरोना केसों में आधा का योगदान इसी राज्य का है। यही वजह है कि महाराष्ट्र के कई शहरों में प्रशासन ने नाइट कर्फ्यू से लेकर वीकेंड लॉकडाउन तक को लगाया है। इसके अलावा, राजस्थान और गुजरात में भी सरकार ने नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया है।

इसे भी पढ़ें-  प्रदेश भाजपा कार्यालय को बनाया जाए कोविड आइसोलशन वार्ड-दिव्यंशू मिश्रा अंशू

महाराष्ट्र के बाद छत्तीसगढ़ भारत का दूसरा सबसे बड़ा हॉटस्पॉट बनकर उभरा है, जहां कोरोना वायरस के लगातार केस सामने आ रहे हैं। यही वजह है कि रायपुर जिले में 11 दिनों का पूर्ण लॉकडाउन लगाया गया है। रायपुर में मंगलवार तक 76 हजार से अधिक केस दर्ज किए गए हैं और 1000 से अधिक लोगों की मौतें हो चुकी हैं। बीते 6 दिनों में रायपुर में दस हजार से अधिक केस आए हैं और 93 लोगों की मौत हुई है।

Advertisements