जबलपुर में आबकारी टीम को देख कर भागा तस्कर हुआ दुर्घटना का शिकार

Advertisements

जबलपुर। धूमा की ओर से एक चार पहिया वाहन में अवैध शराब लोड कर आ रहे तस्कर के पीछे कंपनी व आबकारी की टीम लग गई, जिससे तेजी गति से वाहन दौड़ा तस्कर अपना नियंत्रण खो बैठा और हादसे का शिकार हो गया।

बताया जा रहा है हादसा इतना जबरदस्त था कि उक्त वाहन के एयरबैग खुल गये और चालक दूर जा छिटका और बेहोश हो गया। वहीं पीछे से पहुंची आबकारी की टीम ने उक्त क्षतिग्रस्त वाहन से 17 पेटी देशी शराब की बरामद की है। वहीं आरोपी चालक रामपुर मंडवा बस्ती निवासी हरुणदयाल को उपचार के लिये एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार बीती रात आबकारी दल को सूचना मिली कि धूमा की ओर से एक चार पहिया वाहन में बड़ी मात्रा में अवैध शराब लोड कर लायी जा रहीं है। जिस पर आबकारी की टीम ने उक्त मार्ग पर अपनी गश्ती बढ़ा दी। बताया जा रहा है कि मुखबिर द्धारा बताये गये वाहन के पीछे आबकारी की टीम लग गई। जिस पर आरोपी तस्कर हरुणदयाल तेज गति से वाहन को भगाने लगा और चरगवां के घुंसौर गंगई नहर मोड़ के समीप जाकर वह एक पेड़ से टकरा गया, जिससे वाहन के एयरबैग खुल गये और हरुणदयाल तीन से चार फिर दूर जा छिटका और बेहोश हो गया।

इसे भी पढ़ें-  हीरा कारोबारी नीरव मोदी को बड़ा झटका, पीएनबी घोटाले के आरोपी के प्रत्यर्पण को ब्रिटेन सरकार ने दी मंजूरी

वहीं उसका वाहन बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। बताया जा रहा है कि इसके बाद पीछे से पहुंची आबकारी टीम ने क्षतिग्रस्त वाहन से 17 पेटी देशी शराब की बरामद करते हुए आरोपी को 108 एम्बूलेंस से अस्पताल उपचार के लिये भिजवाते हुए वाहन व शराब जप्त कर आरोपी के खिलाफ आबकारी एक्ट के तहत कार्रवाई की है।

अवैध शराब का करता था विक्रय
आबकारी अधिकारियों का कहना है कि आरोपी हरुणदयाल रामपुर मांडवा बस्ती का निवासी है। जो कि वहां पर अवैध शराब विक्रय करने का कार्य करता है। उक्त शराब भी वह मांडवा बस्ती ही लेकर जा रहा था और रास्तें में दुर्घटनाग्रस्त हो गया।वहीं आबकारी एसआई श्वेता तिवारी ने जानकारी दी कि जब वह अपनी टीम के साथ चरगवां मार्ग पर गश्त कर रहीं थी। उसी समय गंगई नहर के पास एक वाहन दुर्घटनाग्रस्त हालत में पड़ा दिखा। जिसके थोड़ी दूर में हरुणदयाल नामक युवक पड़ा था, जो अचेत था। वाहन से 17 पेटी देशी शराब मिली है। आबकारी टीम ने वाहन व शराब जप्त करते हुए आरोपी को उपचार के लिये अस्पताल में भर्ती कराते हुए प्रकरण दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया है। वहीं घायल आरोपी ने मीडिया कर्मी को जानकारी देते हुए बताया कि वह मैच खेलकर वापस आ रहा था। जहां उसे रास्तें में उसका एक दोस्त मिला और धूमा ले गया। जब वह चाय पीने लगा तो वह वाहन पर कहीं से दारू लोड कर ले आया। जब वह आ रहा था, तो वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो गया और उसका दोस्त भाग गया। जिसके बाद पीछे से आ रहे एक वाहन ने उसे टक्कर मार दी। घायल ने बताया कि उनके पीछे शराब कंपनी की गाड़ी लगी हुई थी।

Advertisements