Online अजब गजब शादी : पति की जिद, बाबा के जेल से छूटने तक रहेगा ब्रह्मचारी… पत्‍नी ने थाने में लगाई गुहार

Advertisements

भोपाल। राजधानी भोपाल के महिला थाना स्थित परिवार परामर्श केंद्र में एक दंपती का अनोखा मामला पहुंचा है।

पत्नी का कहना है कि पति की जिद है कि जब तक उसके आराध्य बाबा (आसाराम बापू) जेल से नहीं छूटेंगे, तब तक वह ब्रह्मचर्य व्रत का पालन करेगा। इस मामले में पत्नी ने शादी बचाने की गुहार लगाई है।

उसने बताया कि शादी के दो साल बाद भी पति ब्रह्मचर्य व्रत का पालन किए हुए हैं। पत्नी का ससुराल पक्ष पर आरोप है कि पूरा परिवार ही बाबा का भक्त है।

पति मुझे मानता है मनहूस, बाबा सपने में आकर पति से कहते हैं पत्नी को पीटो

 

पत्नी ने कहा कि शादी के अगले ही दिन पति ने कहा कि बाबा ने उसे सपने में आकर बताया है कि पत्नी मनहूस है। पति रोटी जल जाने या दूध गिर जाने जैसी मामूली बात पर भी उसे मनहूसियत का ताना देते हैं। पति सहित ससुराल वाले उसके साथ मारपीट करते हैं और कहते कि सपने में बाबा ने ऐसा करने के लिए कहा था। पत्नी ने कहा कि अब परिवार गुजरात शिफ्ट हो रहा है, लेकिन वह जाने से डर रही है। कहीं बाबा के सपने की आड़ में उसके साथ कोई अनहोनी ना हो जाए।

27 वर्षीय पत्नी ने बताया कि उसकी शादी एक मेट्रिमोनियल साइट के जरिए हुई थी। पति गुजरात में सरकारी विभाग में पदस्थ है। परिवार भोपाल छोड़ वहीं बसने की योजना बना रहा है। पत्नी ने कहा कि शादी की पहली रात ही पति ने उसे कह दिया था कि वह छह माह तक ब्रह्मचर्य का पालन करेगा। छह माह में वह बाबा को छुड़वाने के लिए पैसा इकठ्ठा करने में जुटा है। दो साल बाद अब पति का कहना है कि यदि गृहस्थी शुरू करना चाहती हो तो बाबा को छुड़वाने के लिए तुम पैसा दे दो। पत्नी ने कहा कि इस बात पर उसे तरह-तरह से प्रताड़ित किया जाता है। मामले में पति को काउंसिलिंग के लिए बुलाया गया था, लेकिन कोविड के कारण आने से मना कर दिया है।

यह बाबा यौन शोषण के मामले में जेल में बंद है। पत्नी का कहना है कि बाबा के नाम पर उसे तरह-तरह से प्रताड़ित किया जाता है। बाबा को छुड़वाने के नाम पर उसके मायके वालों से 12 लाख रुपये की मांग भी की गई है।

उधर, पति ने कोविड का कारण बताकर काउंसिलिंग में आने से मना कर दिया। अब उसे दोबारा काउंसिलिंग में बुलाया गया है।

पूरे मामले में एक परिवार और खासतौर पर पति का अंधभक्त होना उनके रिश्ते में दरार का कारण बन रहा है। पत्नी बेहद घबराई हुई है। दोबारा काउंसिलिंग के लिए पति-पत्नी को बुलाया गया, लेकिन पति ने फ‍िलहाल आने से मना कर दिया। मई के पहले हफ्ते में आने की बात कही है।

Advertisements