‘स्क्रू ढीला है’ वाली टिप्पणी पर पीएम मोदी का ममता को जवाब

Advertisements

पश्चिम बंगाल के जयनगर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने ममता बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस पर तीखा हमला बोला। उन्होंने कहा कि टीएमसी का फूल पश्चिम बंगाल के लिए एक शूल की तरह है, जो असहनीय पीड़ा दे रहा है।

पीएम मोदी ने बांग्ला में बोलते हुए कहा कि रक्त का खेल नहीं चलेगा, नहीं चलेगा। यही नहीं उन्होंने रैली में आए लोगों से भी यह नारा लगवाया। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी के एक्शन से ही ओपिनियन और एग्जिट पोल सामने आ रहा है।

 

पीएम मोदी ने कहा कि पहले ममता बनर्जी ने भवानीपुर छोड़ दिया और अब नंदीग्राम में चुनाव लड़कर उन्हें लग रहा है कि उन्होंने गलती कर दी है। पहले राउंड की वोटिंग के बाद ममता बनर्जी की बौखलाहट और बढ़ गई है।

 

 

इसे भी पढ़ें-  भारतीय हॉकी टीम ने रचा इतिहास:1972 के बाद पहली बार सेमीफाइनल में जगह बनाई; क्वार्टर फाइनल में अंग्रेजों को हराया

ममता को अब तिलक, चोटी और भगवा कपड़ों से भी दिक्कत

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि उन्होंने पहले राउंड की वोटिंग के बाद देश के अन्य नेताओं को चिट्ठी लिखकर मदद मांगी है। यदि उन्होंने 5 साल तक बंगाल के लोगों की सेवा की होती तो यह करना पड़ता क्या। पीएम मोदी ने कहा कि ईवीएम को दीदी पहले ही गाली दे चुकी हैं और चुनाव आयोग को भी कठघरे में खड़ा कर चुकी हैं। पीएम मोदी ने कहा कि आखिर एक ही क्षेत्र में दीदी को 3 दिन तक क्यों रुकना पड़ रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि पूरा बंगाल जानता है कि दीदी को जय श्री राम के नारे और भगवा कपड़ों से भी दिक्कत है। अब तो उनके लोग चोटी रखने वालों को राक्षस कहने लगे हैं।

इसे भी पढ़ें-  MP: बीजेपी नेता का वायरल वीडियो- 'सरकार तो राजा साहब की थी' 

‘मोदी का स्क्रू ढीला है’ वाले ममता के कॉमेंट का PM ने दिया जवाब

हिंदुत्व कार्ड खेलते हुए कहा कि यदि आपको किसी को खुश करना है तो कर सकती हैं, लेकिन स्वामी विवेकानंद, चैतन्य महाप्रभु और रामकृष्ण परमहंस की परंपरा को मैं गाली नहीं देने दूंगा।

दरअसल ममता बनर्जी ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा था कि यूपी और बिहार से टीका और भगवा वस्त्र धारी गुंडे आ रहे हैं। यही नहीं पीएम नरेंद्र मोदी ने ममता बनर्जी की ओर से की गई व्यक्तिगत टिप्पणियों का भी जिक्र किया।

उन्होंने कहा कि दीदी ने कहा कि मेरा स्क्रू ढीला हो गया है। वह ऐसी तमाम बातें कर सकती हैं, लेकिन कम से कम संविधान का तो अपमान नहीं करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें-  NIA Raids in Jammu Kashmir: एनआइए ने जम्मू व कश्मीर में 14 ठिकानों पर मारे छापे

 

बांग्लादेश दौरे के वक्त 51 शक्तिपीठों में से एक जेशोरेश्वरी देवी मंदिर में जाने को लेकर भी ममता के ऐतराज पर पीएम नरेंद्र मोदी ने हमला बोला। उन्होंने कहा कि मैं मंदिर में जाकर आखिर क्या गलत कर दिया। पीएम मोदी ने कहा कि दीदी ने यूपी और बिहार के लोगों का अपमान किया है। रैली में अम्फान तूफान की राहत राशि का मुद्दा एक बार फिर से उठाया। उन्होंने कहा कि आप लोगों की मदद करने की बजाय टीएमसी ने पीड़ितों को ही लूट लिया।

 

 

 

 

 

 

 

 

Advertisements