अब आटो रिक्शा संचालन के लिए बनाए नए और कड़े नियम

Advertisements
नवीन यादव, इंदौर Indore News। परिवहन विभाग ने अब लोक परिवहन के प्रमुख साधन आटो रिक्शा पर लगाम कसने की तैयारी कर ली है।
आटो रिक्शा के संचालन के लिए नए नियम बना दिए हैं, जो काफी कड़े हैं। इसका प्रारूप अधिसूचित कर दिया है। दावे-आपत्तियों के निराकरण के बाद इसे लागू कर दिया जाएगा।
जानकारी के अनुसार जबलपुर उच्च न्यायालय के आदेश के परिपालन में परिवहन विभाग ने आटो रिक्शा विनियमन योजना 2021 तैयार की है। शुक्रवार को इसके प्रारूप का प्रकाशन कर दिया है।
अब दावे और आपत्तियां आमंत्रित की गई हैं। इधर विशेषज्ञों का कहना है कि नए प्रस्तावित नियम काफी कड़े हैं।
इससे आटो का संचालन करना काफी कठिन हो जाएगा। वहीं सेक्टरवाइज परमिट देने से यात्रियों के लिए भी असुविधा हो जाएगी। लंबे समय से इनके लिए नियम बनाने की मांग भी हो रही थी।
अब तक आटो रिक्शा सिटी परमिट लेकर पूरे शहर में घूमते थे, लेकिन अब उनके लिए मार्ग तय कर उसी के अनुसार परमिट दिए जाएंगे। जानकारी के अनुसार इंदौर में करीब 10 हजार परमिटधारी आटो हैं जबकि 3 हजार आटो रिक्शा अवैध रूप से चल रहे हैं।
यह है प्रमुख नए नियम
– 10 साल से पुराने किसी भी डीजल-पेट्रोल चलित आटो को परमिट नहीं दिया जाएगा। 10 साल पुराने पेट्रोल चलित आटो को भी सीएनजी किट लगवानी होगी।
– अधिकतम गति सीमा 40 किलोमीटर प्रति घंटा होगी। इसके लिए स्पीड गवर्नर लगाया जाएगा।
– वाहन की लोकेशन पता करने के लिए व्हीकल ट्रैकिंग डिवाइस लगाना होगा। इसे परिवहन विभाग के सेंट्रल सर्वर से लिंक करवाना होगा।
ई रिक्शा को परमिट की जरूरत नहीं होगी।
– क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकार द्वारा ई रिक्शा को चलाने के लिए क्षेत्र और मार्गों का निर्धारण किया जाएगा।
-किसी भी शहर या ग्रामीण इलाके में जनसंख्या के आधार पर अन्य लोक परिवहन की संख्या को देखते हुए आटो की संख्या भी तय की जाएगी। अधिकतम संख्या होने के बाद नए परमिट नहीं दिए जाएंगे।
Advertisements

इसे भी पढ़ें-  शादी से पहले दरवाजे पर आ धमकी प्रेमिका, फिर हुआा ऐसा