School Reopening Update: अभी नहीं खुलेंगे स्कूल, इन 10 राज्यों में नए सत्र की कक्षाएं भी Online, देखें लिस्ट

Advertisements

School Reopening News: देश में कोरोना के केस एक बार फिर बढ़ने लगे हैं। ऐसे में सवाल उठ रहा है कि क्या नए सत्र में बच्चे स्कूल जा पाएंगे? ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, अधिकांश राज्यों में तो ऐसा होता नहीं दिख रहा है।

यानी यह सत्र तो जैसे-तैसे निकल गया, लेकिन नया सत्र भी ऑनलाइन क्लासेस से ही शुरू होगा। दिल्ली के साथ ही पंजाब, पुडुचेरी, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, चंडीगढ़, हरियाणा, महाराष्ट्र, कर्नाटक और राजस्थान में इस आशय का फैसला हो चुका है।

खासतौर पर पहली से आठवीं तक के बच्चों को अभी स्कूल बुलाने का विचार बिल्कुल नहीं है। मध्य प्रदेश और छत्तीगढ़ भी कोरोना के हालात बिगड़ते जा रहे हैं।

इसे भी पढ़ें-  भगोड़े विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चौकसी को बड़ा झटका, 9317.17 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त

इन प्रदेशों में भी स्कूल खुलने के आसार नजर नहीं आ रहे हैं। बता दें, इनमें से अधिकांश राज्यों ने अपने यहां स्कूल खोलने का फैसला कर लिया था, लेकिन संक्रमण बढ़ा तो एक बार फिर सख्त फैसला लेना पड़ा।

दिल्ली के स्कूलों में सर्कुलर जारी

दिल्ली में कई बड़े स्कूलों, जैसे वायु सेना बाल भारती स्कूल, दिल्ली पब्लिक स्कूल ने माता-पिता को सर्कुलर जारी किया है। इन स्कूलों द्वारा जारी सर्कुलर के मुताबिक, अगले शैक्षणिक सत्र में बच्चों की पढ़ाई ऑनलाइन ही हो जाएगी।

छात्र घर से अपनी आगे की पढ़ाई करेंगे। दिल्ली सरकार और इन सभी निजी स्कूलों के प्रबंधन नियमित कक्षाओं को फिर से शुरू करने के लिए समय-सीमा देने की स्थिति में नहीं है।

इसे भी पढ़ें-  MP Cabinet Meeting: कैबिनेट मीटिंग में सीएम शिवराज ने वैक्सीनेशन महाअभियान पर सभी को दिया धन्यवाद, कहा अन्न के निःशुल्क वितरण का अभियान...

अखिल भारतीय अभिभावक संघ के अध्यक्ष और दिल्ली विश्वविद्यालय कार्यकारी परिषद के सदस्य शशोक अग्रवाल के मुताबिक, कोरोना स्थिति को देखते हुए ऑनलाइन शिक्षा का विकल्प एक मजबूरी है, लेकिन छात्रों को स्कूल आने का अवसर दिया जाना चाहिए जहां संभव हो।

बढ़ने लगी ड्रापआउट दर

एक अनुमान के अनुसार, स्कूलों के बंद होने से छात्रों के स्कूल छोड़ने की दर (ड्रापआउट रेट) में 20 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। इस दौरान बड़ी संख्या में लोगों को एक राज्य से दूसरे राज्य जाना पड़ा है। उनके लिए नए राज्य में एडमिशन करवाना मुश्किल होगा। दिल्ली से नैनीताल आए पूरन चंद्र ने आईएएनएस को बताया, पिछले साल, हम मार्च के दूसरे सप्ताह में नैनीताल से दिल्ली आए थे।

इसे भी पढ़ें-  Lokayukta Raid In Police Thana TI: थाना परिसर में रिश्वत ले रहे टीआई को लोकायुक्त की टीम ने दबोचा

मेरा बेटा मनीष तीसरी कक्षा में है। लॉकडाउन के कारण उसे कहीं भी प्रवेश नहीं मिल सका, और वह पूरे साल घर पर ही था। स्कूल न खुलने के कारण समस्या और गंभीर हो गई है।

दूसरी तरफ, दिल्ली पेरेंट्स एसोसिएशन का कहना है कि मौजूदा स्थिति को देखते हुए स्कूल नहीं खोलने का यह एक सही निर्णय है, लेकिन इसे कक्षा 9 और 11 के छात्रों पर भी लागू होना चाहिए था।

Advertisements