रोमांचक ढंग से जीता भारत, इंग्लैंड के करन नहीं तोड़ पाए चक्रव्यूह

Advertisements

पुणे। टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच 3 वनडे मैचों की सीरीज के आखिरी और निर्णायक मैच में भारत ने इंग्लैंड को पराजित कर सीरीज पर कब्जा कर लिया है। सेम करन ने बहुत कोशिश की किंतु वह चक्रव्यूह नहीं तोड़ सके। भारत ने टेस्ट के बाद टी 20 और अब वनडे सीरीज जीत ली। 7 रन से भारत ने मैच जीता।

भारत की फील्डिंग इस मैच में बेहद औसत थी। भारत ने 4 कैच छोड़े इस मैच में।

विस्तार

टीम इंडिया ने इंग्लैंड को तीसरे वनडे में 7 रन से हराकर फैंस को होली का गिफ्ट दिया है। इसी के साथ भारतीय टीम ने पुणे में खेली गई 3 वनडे की सीरीज 2-1 जीत ली। फरवरी में भारत दौरे पर आई इंग्लिश टीम को 52 दिन में तीनों फॉर्मेट में शिकस्त दी। 5 फरवरी से खेली गई 4 टेस्ट की सीरीज में 3-1 और फिर 5 टी-20 की सीरीज में 3-2 से हराया था।

निर्णायक वनडे में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम 48.2 ओवर में 329 रन के स्कोर पर ऑलआउट हुई। जवाब में इंग्लिश टीम 9 विकेट गंवाकर 322 रन ही बना सकी। इंग्लैंड के लिए डेविड मलान ने 50 बॉल पर 50 रन बनाए। उनके अलावा लियाम लिविंगस्टो ने 36 और बेन स्टोक्स ने 35 रन बनाए।

इसे भी पढ़ें-  स्पुतनिक-V को अभी पास करनी होगी एक और परीक्षा, रिजल्ट में पास होने पर ही टीकाकरण में करेंगे शामिल

भारतीय बल्लेबाजी में पंत और हार्दिक हीरो रहे
बल्लेबाजी के दौरान टीम इंडिया ने एक समय 157 रन पर 4 विकेट गंवा दिए थे। यहां से ऋषभ पंत और हार्दिक पंड्या ने टीम को संभाला। दोनों ने 5वें विकेट के लिए 73 बॉल पर 99 रन की। पंत ने 62 बॉल पर सबसे ज्यादा 78 रन बनाए। इनके अलावा धवन ने 56 बॉल पर 67 और हार्दिक ने 44 बॉल पर 64 रन की पारी खेली। पंत के करियर की यह तीसरी, धवन की 32वीं और हार्दिक की 7वीं फिफ्टी रही। आखिर में शार्दूल ठाकुर ने 21 बॉल पर 30 रन बनाए। भारतीय पारी में कुल 11 छक्के लगे, जिसमें पंत और हार्दिक ने 4-4 छक्के जड़े। शार्दूल ने 3 सिक्स लगाए।

इंग्लैंड की खराब शुरुआत, शार्दूल ने 4 विकेट लेकर मिडिल ऑर्डर ढहाया

  • सीरीज में पहली बार इंग्लैंड की शुरुआत खराब रही। पहली बार टीम ने शुरुआती 10 ओवर में विकेट गंवाए। 330 रन के टारगेट का पीछा करते हुए इंग्लैंड ने 28 रन पर 2 विकेट गंवा दिए थे।
  • तेज गेंदबाज भुवनेश्वर ने दोनों ओपनर जेसन रॉय और जॉनी बेयरस्टो को पवेलियन भेजा। पारी के पहले ओवर में रॉय 14 रन बनाकर क्लीन बोल्ड हुए।
  • अपने दूसरे और पारी के तीसरे ओवर में भुवी ने जॉनी बेयरस्टो को LBW किया। पिछले वनडे में शतक लगाने वाले बेयरस्टो इस मैच में 1 रन ही बना सके।
  • 68 रन के स्कोर पर इंग्लैंड को तीसरा झटका फास्ट बॉलर नटराजन ने दिया। उन्होंने बेन स्टोक्स को 35 रन पर पवेलियन भेजा। स्टोक्स का कैच शिखर धवन ने लिया।
  • इंग्लैंड टीम संभलने की कोशिश ही कर रही थी कि शार्दूल ने 95 के स्कोर पर चौथा झटका दिया। उन्होंने इंग्लिश कप्तान जोस बटलर को 15 रन पर LBW किया।
  • पहले अंपायर ने बटलर को नॉट आउट दिया था। भारतीय कप्तान कोहली ने DRS (डिसीजन रिव्यू सिस्टम) लिया। इसके तहत थर्ड अंपायर ने बटलर को आउट दिया।
  • 155 रन पर इंग्लैंड की आधी टीम पवेलियन लौट गई। शार्दूल ने करियर का दूसरा वनडे खेल रहे लियाम लिविंगस्टोन (36 रन) को शिकार बनाया। लियाम ने मलान के साथ 5वें विकेट के लिए 54 बॉल पर 60 रन की पार्टनरशिप की।
  • शार्दूल लगातार इंग्लिश बल्लेबाजों पर हावी रहे और 168 रन पर छठा झटका दिया। उन्होंने फिफ्टी लगाकर खेल रहे मलान को पवेलियन भेजकर इंग्लैंड का मिडिल ऑर्डर ढहा दिया।
  • सैम करन ने आखिर में मोइन अली और आदिल रशीद के साथ मिलकर मैच जीतने की कोशिश जरूर की, लेकिन नाकाम रहे। भुवी ने पहले मोइन को पवेलियन भेजा। इसके बाद शार्दूल ने रशीद को शिकार बनाया।
  • करन ने रशीद के साथ 8वें विकेट के लिए 53 बॉल पर 57 रन की पार्टनरशिप कर टीम को जीत के करीब पहुंचाने की कोशिश की। 257 के स्कोर पर रशीद भी आउट हो गए। यहां से टीम वापसी नहीं कर सकी।
इसे भी पढ़ें-  Hospital में नेता-अफसरों के लिए VIP कल्चर से तंग एम्स के डॉक्टरों ने PM Modi को लिखी चिट्ठी
Advertisements