बांग्लादेश में कट्टरपंथियों का उपद्रव, मंदिरों और ट्रेन पर किया हमला, 10 की मौत

Advertisements

ढाका। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की यात्रा खत्म होने के एक दिन बाद बांग्लादेश (Bangladesh) में हिंसा (Violence) भडक़ उठी। कट्टरपंथियों ने हिंदू मंदिरों सहित पूर्वी बांग्लादेश में ट्रेन पर हमला कर दिया। पीएम मोदी बांग्लादेश की 50वीं वर्षगांठ पर आयोजित समारोह में हिस्सा लेने शुक्रवार को ढाका पहुंचे थे। वह सद्भावना के तौर पर अपने साथ 12 लाख कोरोना वैक्सीन भी ले गए थे, लेकिन कट्टरपंथी इस्लामिक संगठन उनकी यात्रा का विरोध कर रहे थे। इस्लामी समूहों द्वारा किए गए प्रदर्शनों के दौरान पुलिस के साथ झड़प में कम से कम 10 प्रदर्शनकारियों की मौत हो गई है।

इसे भी पढ़ें-  खुशखबर: यात्रियों की सुविधाओं के लिए 27 जून से पटरी पर दौड़ेंगी ये ट्रेनें, देखें पूरी लिस्ट

प्रदर्शनकारी इस्लामिक समूहों ने पीएम मोदी पर हिंदू बहुल भारत में अल्पसंख्यक मुसलमानों के साथ भेदभाव करने का आरोप लगाया है। राजधानी ढाका में शुक्रवार को हुए प्रदर्शनों में कई लोग घायल हो गए। प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस ने उनपर आंसू गैस के गोले छोड़े और रबर की गोलियों चलाई। पीएम मोदी की यात्रा के दूसरे और आखिरी दिन हजारों इस्लामिक कार्यकर्ताओं ने विरोध में शनिवार को चटगांव और ढाका की सडक़ों पर मार्च किया।

प्रदर्शनकारियों ने रविवार को हिफाजत-ए-इस्लाम समूह ने ब्राह्मणमरिया के पूर्वी हिस्से में एक ट्रेन पर हमला कर दिया, जिसके चलते 10 लोग घायल हो गए। रॉयटर्स को एक पुलिस अधिकारी ने नाम न जाहिर करने की शर्त पर बताया कि उन्होंने ट्रेन पर हमला कर दिया और इंजन रूम और लगभग हर कोच को बर्बाद कर दिया।

Advertisements