शराब की ऐसी लगी तलब पी लिया सैनिटाइजर, भोपाल के तीन भाइयों की मौत

Advertisements

Bhopal Crime News:। राजधानी भोपाल में शराब की तलब में तीन भाइयों द्वारा सैनिटाइजर का सेवन करना उनकी मौत का सबब बन गया। एक ने मौके पर ही दम तोड़ दिया, जबकि दूसरे भाई की कुछ दूर जाकर मौत हो गई। तीसरा भाई जहांगीराबाद के जिंसी क्षेत्र में अपने कमरे में मृत मिला।

एमपी नगर थाने के एसआइ आरके मिश्रा के अनुसार पर्वत अहिरवार (55), रामप्रसाद अहिरवार (50) और भूरा अहिरवार (47) तीनों सगे भाई थे। तीनों शादीशुदा थे और उनके बच्चे भी हैं। तीनों अपने परिवार से सालों से अलग रह रहे थे। इसमें रामप्रसाद पेंटर था और जहांगीराबाद में रहता था। पर्वत और भूरा हम्माली करते थे। तीनों शराब पीने के आदी थी। लॉकडाउन के दौरान रविवार को इन्हें शराब नहीं मिली। सोमवार को ये सैनिटाइजर की पांच लीटर की कैन लेकर आए और शराब की तलब पूरी करने लगे। पुलिस सूत्रों का कहना है कि सैनिटाइजर अल्कोहल वाला था।

इसे भी पढ़ें-  कोरोना का तांडव: एक दिन में पहली बार 2 हजार मौतें और करीब 3 लाख नए केस, जानें कहां-कैसे हैं हालात

 

तीनों ने एमपी नगर में बैठकर पीया था सैनिटाइजर

पुलिस जांच में सामने आया है कि तीनों भाइयों ने सोमवार रात में एमपी नगर में बैठकर सैनिटाइजर पीया था। इसके बाद पर्वत तो एमपी नगर जोन-1 में हकीम आयरन के पास फुटपाथ पर ही सो गया, जबकि भूरा और रामप्रसाद अपने ठिकानों की ओर चल दिए। रामप्रसाद सोमवार रात में घर में मृत मिला, जबकि भूरा और पर्वत एमपी नगर में फुटपाथ पर मृत मिले। तीनों को अस्पताल ले जाया गया, जहां उनको मृत घोषित कर दिया गया।

 

दूसरा भाई कुछ दूर जाकर गिरा

एमपी नगर टीआइ सूर्यकांत अवस्थी ने बताया कि एमपी नगर में हकीम आयरन के यहां पर्वत काम करता था। वह यहीं फुटपाथ पर मृत मिला था, जबकि इससे कुछ दूर पर इसका भाई भूरा मिला, जिसे जेपी अस्पताल भेजा गया, वहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। भूरा कोलार में रहता था, जबकि इनके तीसरे बड़े भाई रामप्रसाद ने जिंसी क्षेत्र में अपने कमरे पर जाकर दम तोड़ा। रामप्रसाद के बेटे संजय अहिरवार ने बताया कि उनके पिता और उनके भाइयों को शराब पीने की आदत थी। पर्वत अहिरवार का परिवार सारणी बैतूल में रहता है, जबकि भूरा अहिरवार का परिवार मंडी गंजबासौदा में रहता है।

Advertisements