हिन्दू युवा वाहिनी ने 50 मंदिरों के बाहर टांगे बैनर, जानिए किन लोगों के घुसने पर लगाई रोक

Advertisements

हिन्दू युवा वाहिनी ने राज्य के अनेक मंदिरों में बैनर फ्लैक्स लगाकर गैर हिंदुओं का प्रवेश करने की मुहिम शुरू की है। रविवार को कई मंदिरों के बाहर ऐसे बैनर लगाए गए। हिन्दू युवा वाहिनी प्रदेश अध्यक्ष गोविंद वाधवा ने बताया कि हिन्दू युवा वाहिनी प्रदेश महासचिव जीतू रन्धावा के नेतृत्व में पूरे राज्य में अनेक जगह मंदिरों, देवालयों को विधर्मियों से बचाने के लिये अभियान शुरू किया गया है।

देहरादून के डोईवाला, सेलाकुई, प्रेमनगर समेत अन्य इलाकों में करीब पचास मंदिरों में ये बैनर लगाए गए। जिसमें मन्दिरों के बहार फलैक्स बोर्ड लगाकर सूचना लिखी गई है। यह मन्दिर हिन्दू समाज का पवित्र स्थल है इसमें गैर हिन्दुओं का प्रवेश वर्जित है।

वाधवा ने कहा कि हिन्दू समाज को संगठित होकर अपनी ताकत दिखानी होगी, धर्म और समाज की रक्षा के लिये स्वयं आगे आना होगा। सब कुछ सरकार के भरोसे नही रहा जा सकता। कहा कि, हमारे मन्दिर विधर्मियों से अपवित्र ना हों और समाज की बहू बेटियां मन्दिरों में पूजा अर्चना के लिये बैखोफ आ सके। इसके लिये हिन्दू वाहिनी हर सम्भव प्रयास करती रहेगी। बैनर लगाने को लेकर कुछेक मंदिरों में समिति के लोगों को टोका गया? इस सवाल पर वाधवा ने कहा कि सभी मन्दिर समितियों को साथ लेकर सनातन धर्म की संस्कृति को आगे बढाने का प्रयास किया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें-  गलवान से टाइम्स स्क्वॉयर तक...ऐसे मनाया गया योग दिवस, देखें झलक

इसके लिये हर माह मंदिरों में समितियों के साथ सामूहिक बैठक की जाएगी। उन्होने कहा कि जो भी गैर हिन्दू मन्दिर में प्रवेश करता है उसे पकड़कर पुलिस को सौंपे या हिन्दू युवा वाहिनी की टीम को सूचित करें।

प्रदेश उपाध्यक्ष ललित शर्मा ने बताया कि सभी मन्दिर समितियों को सनातन धर्म के अनुरुप संचालित करने के लिए सम्पर्क साधा गया है। वहीं बैनर लगाने को लेकर एसएसपी दून ने हिन्दू युवा वाहिनी के पदाधिकारियों को अपने कार्यालय में बुलाया है।

उधर, कोतवाली को सूचना प्राप्त हुई की घंटाघर, चकराता रोड,हनुमान मंदिर एवं दर्शन लाल चौक पर स्थित पंचायती  मंदिर में एक बैनर लगाया गया है जिस पर गैर हिंदुओं का प्रवेश वर्जित करने जैसे अंकित किया गया है।

इसे भी पढ़ें-  अब मास्क उतारने की हो रही तैयारी, 28 जून के बाद इटली में नहीं होगा अनिवार्य

इस पर चौकी प्रभारी धारा द्वारा तत्काल मौके पर जाकर जानकारी की गई तो उक्त मंदिर में फ्लेक्स बैनर लगाया गया था जिस पर लिखा था यह तीर्थ हिंदुओं का पवित्र स्थल है इसमें गैर हिंदुओं का प्रवेश वर्जित है।  जिस पर मंदिर के सदस्यों से जानकारी की गई तो उनके द्वारा बताया गया कि हमें इस संबंध में कोई जानकारी नहीं है और नहीं हमने जो बैनर लगाए हैं। जिस पर मंदिर में मौजूद लोंगो द्वारा तुरंत बैनर हटाए गए। चकराता रोड मंदिर बंद होने पर बैनर हटाया गया और बैनर पर अंकित मोबाइल धारक के बारे में जानकारी की गई तो जो मोबाइल नंबर जीतू रंधावा का होना पाया गया, जो हिंदू युवा वाहिनी का प्रदेश महासचिव है जिसके खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया।

Advertisements