बड़ी खबर: अब राजस्थान के सभी नगर निगमों में नाइट कर्फ्यू, जनिये इन शहरों को

Advertisements

कोरोना का संक्रमण एक बार फिर से बढ़ने लगा है। कई राज्‍यों ने अपने यहां कड़े प्रतिबंध लगाए हैं। इस क्रम में आज राजस्‍थान सरकार ने भी आदेश जारी कर दिए हैं। इसके अनुसार प्रदेश में भी नगर निगमों के क्षेत्रों में 22 मार्च से रात 10 बजे के बाद बाजार बंद रहेंगे। रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक अजमेर, भीलवाड़ा, जयपुर, जोधपुर, कोटा, उदयपुर, सागवाड़ा और कुशलगढ़ में कर्फ्यू लगाया जाएगा।

25 मार्च से राज्य में प्रवेश करने वाले मेहमानों को 72 घंटे से अधिक पुरानी नेगेटिव आरटी-पीसीआर परीक्षण रिपोर्ट नहीं देनी होगी। प्राथमिक स्कूल अगले आदेश तक बंद रहेंगे। कोरोना महामारी को फिर से फैलते देख राजस्थान सरकार ने पांचवीं कक्षा तक के स्कूलों को आगामी आदेश तक बंद करने और इससे ऊपर की कक्षाओं में कुल क्षमता के 50 फीसद स्टूडेंट्स को ही बुलाने के निर्दश दिए हैं।

इसे भी पढ़ें-  कोरोना की परीक्षा में CBSE फेल: 10वीं की परीक्षा रद्द, सभी छात्र प्रमोट होंगे, 12वीं के एग्जाम टाले, इस पर फैसला 1 जून को

सरकार ने तय किया है कि प्रदेश के सभी नगर निकायों में रात 10 बजे बाजार बंद हो जाएंगे। वहीं, आठ शहरों में रात 11 बजे से सुबह पांच बजे तक रात्रि कर्फ्यू रहेगा। आगामी 25 मार्च से प्रदेश के बाहर से आने वाले सभी यात्रियों के लिए 72 घंटे के भीतर की आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य किया गया है। इससे पहले केरल, महाराष्ट, गुजरात, पंजाब, हरियाणा और मध्य प्रदेश से आने वाले लोगों के लिए ही रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य किया गया था, लेकिन अब देश के किसी भी राज्य के आने वाले लोगों को यह रिपोर्ट दिखानी होगी।

इसे भी पढ़ें-  मध्‍य प्रदेश के शासकीय विद्यालयों में 13 जून तक रहेगा ग्रीष्मकालीन अवकाश

जानिये कहां रहेगी छूट और कहां रहेगी पाबंदी

आईटी कंपनियों, दवा की दुकानों और हवाई अड्डों पर भी छूट रहेगी। विवाह समारोह में 200 व अंतिम संस्कार में 20 लोगों को ही शामिल होने की अनुमति दी जाएगी। विवाह समारोह की सूचना संबंधित उपखंड अधिकारियों को देनी होगी। प्रशासन के मांगने पर वीडियोग्राफी भी उपलब्ध करानी होगी। एक लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में खुले स्थानों पर होने वाले सामाजिक, मनोरंजक, राजनीतिक व खेल समारोह में 200 से अधिक लोग शामिल नहीं हो सकेंगे। सीएम गहलोत ने धार्मिक ट्रस्टों व प्रबंध समितियों से दर्शन करने वालो के लिए मास्क व सैनिटाइजिंग की व्यवस्था करने की अपील की है। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में पिछले कुछ दिनों से लगातार संक्रमितों की संख्या में बढ़ोतरी होने लगी है।

Advertisements