होली पर 499 साल बाद बन रहा ध्रुव योग, जनिये आप पर क्या होगा प्रभाव

Advertisements

Holi 2021: होली रंगों के त्योहार के लिए जानी जाती है। यह प्रेम और भाईचारा बढ़ाने वाला पर्व है। इस साल होली पर कई सालों बाद पर विशेष योग बन रहा है। हिंदू पंचांग के अनुसार फाल्गुन मास की कृष्ण पक्ष की प्रतिपदा तिथि को होली मनाई जाती है। इस वर्ष 29 मार्च 2021 को खेली जाएगी। इस दिन ध्रुव योग भी बन रहा है। यह योग 499 साल बाद पड़ रहा है। इससे पहले यह साल 1521 में पड़ा था।

21 से 28 मार्च तक होलाष्टक

वहीं इस वर्ष होली में सर्वार्थसिद्धि और अमृतसिद्धि योग भी बन रहा है। होलाष्टक तिथि 21 मार्च से आरंभ होकर 28 मार्च को समाप्त होगी। इस दौरान शुभ व मांगलिक कार्य नहीं किए जाते हैं। इसकी वजह है कि इन्हीं 8 दिनों भक्त प्रह्लाद को यातनाएं झेलनी पड़ी थी। साथ ही इस अवधि में कई ग्रहों के स्वभाव में उग्रता और प्रभावहीन होते हैं। इस दौरान विवाह करना, वाहन या घर खरीदना, भूमि पूजन, गृह प्रवेश समेत कोई नया शुभ कार्य प्रारंभ नहीं किए जाते।

इसे भी पढ़ें-  शादी से पहले दरवाजे पर आ धमकी प्रेमिका, फिर हुआा ऐसा

2 घंटे 20 मिनट होलिका दहन मुहूर्त

होलिका दहन 28 मार्च रविवार को होगा। दहन का शुभ मुहूर्त शाम 6.28 बजे से रात 8.56 बजे तक है। इसकी कुल अवधि 2 घंटे बीस मिनट की है।

ध्रुव योग का महत्व

इस साल होली पर विशेष ध्रुव योग बन रहा है। इस दिन चंद्रमा कन्या राशि में गोचर कर रहे हैं। वहीं मकर राशि में गुरु व शनि विराजमान रहेंगे। शुक्र और सूर्य मीन राशि में रहेंगे। मंगल व राहु वृषभ राशि में रहेंगे। इसलिए होली का खास महत्व है।

Advertisements