तीन-चार दिन और बिगड़ा रह सकता है मध्य प्रदेश में मौसम का मिजाज

Advertisements

MP Weather Update। मध्य प्रदेश में 17 मार्च से मौसम का मिजाज बिगड़ना शुरू हुआ था। अभी भी प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ने का सिलसिला बना हुआ है। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि रविवार को भी एक नया पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में दाखिल होने जा रहा है। उसके प्रभाव से अभी तीन-चार दिन तक मौसम साफ होने के आसार भी नहीं दिख रहे। उधर बेमौसम बारिश से गेहूं और आम की फसल को भारी नुकसान पहुंचा है। कई स्थानों पर सब्जियों की फसल भी चौपट हो गई है।

मौसम विज्ञान केंद्र से मिली जानकारी के मुताबिक वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में मौजूद है। रविवार को एक अन्य पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत में पहुंचने की संभावना है। उधर दक्षिण-पूर्वी मध्य प्रदेश और उससे लगे हुए राजस्थान पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक इस सिस्टम के कारण आ रही नमी से बादल बने हुए हैं। इससे गरज-चमक के साथ बरसात हो रही है। अभी इस तरह की स्थिति चार दिन तक बनी रह सकती है। इसके बाद मौसम साफ होने लगेगा। मौसम विज्ञानी पीके साहा ने बताया कि वर्तमान में बंगाल की खाड़ी और अरब सागर दोनों स्थानों से मध्य प्रदेश के वातावरण में हवाओं के साथ नमी आने का सिलसिला बना हुआ है।

इसे भी पढ़ें-  कटनी कोरोना अपडेट: 647 सेम्पल की रिपोर्ट में 58 नए पॉजिटिव केस

 

प्रदेश के अलग-अलग स्थानों पर रुक-रुक कर हो रही बारिश से भी वातावरण में नमी बनी हुई है। इस वजह से दिन में तापमान बढ़ते ही शाम के समय स्थानीय स्तर पर भी गरज-चमक की स्थिति बनी लगती है। मौसम विज्ञानी पीके साहा के मुताबिक मध्य प्रदेश में अभी तीन-चार दिन तक मौसम साफ होने की संभावना नहीं दिख रही है। 25 मार्च के बाद ही मौसम धीरे-धीरे साफ होने के आसार हैं।

Advertisements