दूसरों का जीवन सुरक्षित करने वाला हादसे में हार गया जिंदगी, LIC एजेंट की दुर्घटना में दर्दनाक मौत

Advertisements

जबलपुर। भोपाल फोरलेन पर उमरिया गांव के पास शनिवार शाम तेज रफ्तार हाइवा ने बाइक सवार को कुचल दिया। बाइक सवार एलआईसी में अभिकर्ता था। वह जबलपुर से घर लौट रहा था। मृतक घर की इकलौता बेटा था। 15 साल पहले शादी हुई थी, पर उनके भी औलाद नहीं थी। हादसे की खबर मिलते ही घर में कोहराम मच गया।

मृतक की पहचान पिपरिया कला शहपुरा निवासी अवधेश दुबे (38) के रूप में हुई। अवधेश के पिता दिनेश दुबे पंडिताई करते हैं। मां सरोज दुबे गृहणी हैं। अवधेश दुबे एलआईसी में एजेंट थे। उनकी शादी 15 साल पहले ऋचा दुबे से हुई थी, लेकिन कोई औलाद नहीं था। अवधेश दुबे भी मां-पिता की इकलौती संतान थे।

एक्सीडेंट देखने वालों की भी कांप गई रूह। - Dainik Bhaskar
एक्सीडेंट देखने वालों की भी कांप गई रूह।

घर लौटते समय रास्ते में ही मौत का झपट्‌टा
अवधेश दुबे शनिवार सुबह एलआईसी के काम से जबलपुर गए थे। शाम करीब चार बजे के बाइक एमपी 20 एनएच 3827 से लौट रहे थे। इसी दौरान उमरिया गांव के पास सामने से आ रहे हाइवा ने कुचल दिया। वह बाइक समेत हाइवा के पहिए के नीचे आ गए। उनकी मौके पर ही मौत हो गई। राहगीर मदद के लिए पहुंचे, तब तक ड्राइवर फरार हो गया। शहपुरा पुलिस ने हाइवा व बाइक को जब्त कर लिया है।

इसे भी पढ़ें-  अब मास्क उतारने की हो रही तैयारी, 28 जून के बाद इटली में नहीं होगा अनिवार्य

रोड बनाने वाली कंट्रक्शन कंपनी की लापरवाही
जबलपुर-भोपाल फोरलेन अभी तैयार भी नहीं हुआ कि पूर्व में बनी सीमेंट रोड पर दरारें आने लगी हैं। इन दरारों को भरने का काम ठेका बागड़ कंपनी द्वारा किया जा रहा है। इसके लिए एक साइड की रोड बंद कर दी गई है। एक ही साइड की रोड से आवागमन हो रहा है। इसी के चलते हादसा हुआ। दो दिन पहले नटवारा गांव के पास इसी तरह बाइक सवार भीटा गांव निवासी तीन लोग घायल हो गए थे।

हादसे के शिकार बने अवधेश दुबे (38)। - Dainik Bhaskar
हादसे के शिकार बने अवधेश दुबे (38)।
चेकदार शर्ट में अवधेश दुबे (38) , बगल में पिता, मां और पत्नी के साथ फोटो में। - Dainik Bhaskar
चेकदार शर्ट में अवधेश दुबे (38) , बगल में पिता, मां और पत्नी के साथ फोटो में।
Advertisements