अंतिम और निर्णायक T20 में भारत ने इंग्लैंड को हराया, जीती सीरीज

Advertisements

अहमदाबाद। भारत ने यहां नरेंद्र मोदी स्टेडियम में इतिहास रचते हुए इंग्लैंड से टेस्ट के बाद टी 20 सीरीज भी जीत ली। भारत ने इंग्लैंड को धूल चटाते हुए इस निर्णायक मैच में इंग्लैंड को 36 रन से हरा दिया।

इंग्लैंड के बल्लेबाज डेविड मलान ने ओपनर जोस बटलर के साथ दूसरे विकेट के लिए शतकीय साझेदारी की। - Dainik Bhaskar
इंग्लैंड के बल्लेबाज डेविड मलान ने ओपनर जोस बटलर के साथ दूसरे विकेट के लिए शतकीय साझेदारी की।

इसी के साथ 5 टी-20 की सीरीज 3-2 से अपने नाम कर ली। 2 साल से अजेय टीम इंडिया ने लगातार छठी सीरीज जीती है। वहीं, इंग्लैंड टीम 9 साल से भारतीय जमीन पर कोई द्विपक्षीय टी-20 सीरीज नहीं जीत सकी। इससे पहले अक्टूबर 2011 में शिकस्त दी थी। तब दोनों टीम के बीच एक ही मैच की सीरीज खेली गई थी।

टीम इंडिया ने नवंबर 2019 के बाद से सभी 6 टी-20 सीरीज जीती हैं। जबकि, इंग्लिश टीम ने सितंबर 2020 के बाद से पहली टी-20 सीरीज हारी। इस दौरान दो सीरीज जीती हैं। भारतीय टीम पिछली 8 टी-20 सीरीज से हारा नहीं है। उसे पिछली हार फरवरी, 2019 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मिली थी। जबकि, सितंबर 2019 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2 टी-20 की सीरीज 1-1 से बराबर रही थी।

इसे भी पढ़ें-  Story Of Dashahari Aam : दशहरी आम के जनक की: तीन सौ साल है इस पेड़ की उम्र, 1600 वर्ग फीट में है फैला, पढ़ें इससे जुड़ा इतिहास

सितंबर 2017 के बाद से भारतीय टीम ने निदाहास ट्रॉफी समेत पिछली 20 सीरीज में से 2 गंवाई हैं। इंग्लैंड की बात की जाए तो इस दौरान वह भी 2 सीरीज हारी है। उसे आखिरी बार जुलाई, 2018 में भारत ने ही टी-20 सीरीज में हराया था।

मलान और बटलर की फिफ्टी
भारतीय टीम ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 2 विकेट गंवाकर 224 रन बनाए थे। इसके जवाब में इंग्लिश टीम 8 विकेट गंवाकर 188 रन ही बना सकी। डेविड मलान ने 46 बॉल पर सबसे ज्यादा 68 रन की पारी खेली। जोस बटलर ने 34 बॉल पर 52 रन बनाए। मलान ने टी-20 करियर की 10वीं और जोस बटलर ने 12वीं फिफ्टी लगाई।

भारत और इंग्लैंड के बीच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में आखिरी और निर्णायक मैच में भारतीय टीम ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 225 रन का टारगेट दिया। इसके जवाब में इंग्लिश टीम के 5 विकेट  140 रन बना गिर गए।  बेन स्टोक्स और क्रिस जॉर्डन क्रीज पर थे डेविड मलान टी-20 करियर की 10वीं और जोस बटलर 12वीं फिफ्टी लगाकर आउट हुए।

इसे भी पढ़ें-  Story Of Dashahari Aam : दशहरी आम के जनक की: तीन सौ साल है इस पेड़ की उम्र, 1600 वर्ग फीट में है फैला, पढ़ें इससे जुड़ा इतिहास

15वें ओवर में शार्दूल ठाकुर ने 2 विकेट लेकर मैच का रुख बदल दिया। उन्होंने जॉनी बेयरस्टो (7 रन) को सूर्यकुमार के हाथों कैच आउट कराया। इसके बाद मलान को क्लीन बोल्ड किया। मलान ने 46 बॉल पर 68 रन की पारी खेली। 16वें ओवर में हार्दिक पंड्या ने इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन (1 रन) को पवेलियन भेजा।

इंग्लैंड की खराब शुरुआत

इंग्लिश टीम की शुरुआत बेहद खराब रही। टीम को पारी के पहले ओवर की दूसरी बॉल पर पहला झटका लगा। तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने ओपनर जेसन रॉय को क्लीन बोल्ड किया। इसके बाद जोस बटलर ने डेविड मलान के साथ दूसरे विकेट के लिए 75 बॉल पर 130 रन की पार्टनरशिप कर पारी को संभाला। यहां भुवनेश्वर ने ही दूसरा झटका दिया। उन्होंने बटलर को हार्दिक के हाथों कैच आउट कराया। बटलर ने 34 बॉल पर 52 रन की पारी खेली।

मलान ने बाबर आजम का रिकॉर्ड तोड़ा
मलान टी-20 इंटरनेशनल में सबसे तेज 1,000 रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। उन्होंने इस मैच में 65 रन बनाते ही यह उपलब्धि हासिल की। यह उनकी 24वीं पारी है। मलान ने पाकिस्तान के बाबर आजम का रिकॉर्ड तोड़ दिया। बाबर ने 26 पारियों में 1,000 रन पूरे किए थे। साथ ही मलान हजार रन बनाने वाले इंग्लैंड के 7वें बैट्समैन बन गए। इससे पहले जेसन रॉय, इयोन मोर्गन, जोस बटलर, एलेक्स हेल्स, केविन पीटरसन और जॉनी बेयरस्टो 1,000 रन बना चुके हैं।

इसे भी पढ़ें-  Story Of Dashahari Aam : दशहरी आम के जनक की: तीन सौ साल है इस पेड़ की उम्र, 1600 वर्ग फीट में है फैला, पढ़ें इससे जुड़ा इतिहास

कोहली सबसे ज्यादा 12 बार 50+ स्कोर बनाने वाले कप्तान बने

कप्तान विराट कोहली और रोहित शर्मा ने फिफ्टी लगाई। विराट ने 52 बॉल पर 80 और रोहित ने 34 बॉल पर 64 रन बनाए। इनके अलावा सूर्यकुमार यादव ने 17 बॉल पर 32 और हार्दिक पंड्या ने 17 बॉल पर नाबाद 39 रन की पारी खेली।

विराट सबसे ज्यादा 12 बार 50+ स्कोर बनाने वाले कप्तान बन गए हैं। इस मामले में उन्होंने न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन (11 बार) को पीछे छोड़ दिया। तीसरे नंबर पर काबिज ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एरॉन फिंच ने 10 बार यह कारनामा किया है।

Advertisements