नाइट कर्फ्यू के बाद कोरोना विस्फोट, भोपाल कलेक्टर हुए सख्त, लापरवाही पर स्पॉट फाइन

Advertisements

भोपाल । एक तरफ इंदौर कलेक्टर (Indore Collector) ने लॉकडाउन (Lockdown) की चेतावनी दी है, वही दूसरी तरफ भोपाल कलेक्टर (Bhopal Collector) ने सख्ती के साथ 500 से 2000 तक स्पॉट फाइन लगाने के निर्देश दिए है। भोपाल कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी अविनाश लवानिया ने कोविड-19 संक्रमण को रोकने के लिए भोपाल जिले के समस्त सार्वजनिक स्थलों पर बिना फेस मास्क, फेस कवर पहनने वाले व्यक्तियों, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने के विरूद्ध 500 रूपए के अर्थदंड लगाने के निर्देश जारी किए है।

दरअसल, इंदौर (Indore) के बाद मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) में कोरोना वायरस (Coronavirus) की रफ्तार तेज हो चली है। आए दिन 150-200 के आसपास केस सामने आ रहे है।नइट कर्फ्यू  (Night Curfew)के बाद आज शुक्रवार को 203 नए कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) सामने आए है। यह आंकड़ा नए साल 2021 में अबतक का सबसे बड़ा आंकड़ा माना जा रहा है।

इसे भी पढ़ें-  जरूरतमंदों के लिए सांसद विवेक तनखा ने दी हैंडपंपों की सैगात।

भोपाल कलेक्टर ने कहा कि फेस मास्क नहीं लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने वाले व्यक्तियों पर अधिकतम 500 रूपए, सार्वजनिक स्थलों पर थूकने वाले व्यक्तियों पर अधिकतम 1000 रूपए, होम अथवा संस्थागत क्वारंटाईन किये गये लोगों के द्वारा उल्लंघन पर अधिकतम 2000 रूपए का अर्थदंड लगाया जाएगा।

भोपाल कलेक्टर ने कहा कि किसी भी संस्था, कार्य स्थल अथवा व्यापारिक प्रतिष्ठान अधिकतम 5000 रूपए, किसी भी व्यक्ति द्वारा आदेश का उल्लंघन किये जाने पर सम्बधित संस्था, कार्य स्थल अथवा व्यापारिक प्रतिष्ठान प्रभारी पर समस्त कार्यपालिक दण्डाधिकारी, समस्त सहायक कमिश्नर नगर निगम भोपाल, समस्त थाना प्रभारी, भोपाल को उक्त आदेश का पालन कराये जाने के लिए अधिकृत किया है।

इसे भी पढ़ें-  कटनी कोरोना अपडेट: 627 सेम्पल की रिपोर्ट में 62 नए पॉजिटिव केस

भोपाल कलेक्टर ने बताया कि व्यक्तियों, संस्था, कार्यस्थल अथवा व्यापारिक प्रतिष्ठान पर किसी भी व्यक्ति द्वारा आदेश का उल्लंघन करने पर संबंधित प्रभारी पर एवं होम क्वारटाइन किए गए लोगों द्वारा निर्देशों का उल्लंघन करने अथवा राष्ट्रीय दिशा-निर्देशो का पालन नहीं किये जाने वाले व्यक्तियों के विरूद्ध स्पाट फाइन की कार्यवाही किये जाने के लिए संयुक्त दल गठित किए गए है।

भोपाल में इन जगहों पर सख्ती

भोपाल जिले के 43 थानों में थाना जहाँगीराबाद, ऐशबाग, श्यामला हिल्स, कोतवाली, हनुमानगंज, तलैया, मंगलवारा, बैरागढ़, गांधी नगर, गौतम नगर, शाहजहांनाबाद, टीला जमालपुरा, कोहेफिजा, रातीबढ़, सूखी सेवानिया, बिलखिरिया, खजूरी सड़क, परवलिया सड़क, ईटखेड़ी, मिसरोद, कटारा हिल्स, शाहपुरा, कोलार, हबीबगंज, बैरसिया, नजीराबाद, गुनगा, एमपीनगर, बागसेवनिया, जीआरपी हबीबगंज, अवधपुरी, टीटीनगर, कमला नगर, चूना भट्टी, अरेरा हिल्स, गोविन्दपुरा, अशोका गार्डन, पिपलानी, अयोध्या नगर, स्टेशन बजरिया, निशातपुरा, छोला मंदिर एवं भोपाल स्टेशन में तहसीलदार, थाना प्रभारी, स्वास्थ्य अधिकारी एवं सफाईकर्मी को प्रत्येक दल प्रतिदिन स्पाट फाईन की कार्यवाही कर, की गई कार्यवाही का प्रतिवेदन संबंधित अनुविभागीय अधिकारी को भेजना सुनिश्चित करें।

Advertisements