मायके जा रही बहु के ताने से सास ने खाया जहर, पता चला तो बेटे ने भी दे दी जान

Advertisements

कटनी। मायके जा रही बहू की बात सुनकर सास इस तरह आहत हुई कि बहू के घर जाते ही जहर का सेवन कर लिया। मां को जहर खाते देख बेटे ने भी जहर खा लिया।

दोनों इलाज के लिए अस्पताल पहुंंचे। इलाज के बाद मां तो बच गई, लेकिन बेटे की जान चली गई। मामला उमरियापान थाना क्षेत्र के सिलौड़ी चौकी अंतर्गत दशरमन गांव का है।

सिलौड़ी चौकी प्रभारी नासिर हुसैन ने बताया कि सत्यम मिश्रा ने दिसंबर माह में समीप के गांव मुरवारी निवासी नीतू बख्शी से प्रेम विवाह किया था। रविवार को किसी बात को लेकर सत्यम और नीतू के बीच विवाद हुआ।

इसे भी पढ़ें-  Story Of Dashahari Aam : दशहरी आम के जनक की: तीन सौ साल है इस पेड़ की उम्र, 1600 वर्ग फीट में है फैला, पढ़ें इससे जुड़ा इतिहास

नीतू ने मायके में मां को फोन पर सूचना दी और मां मुरवारी गांव से बेटी को लेने दशरमन पहुंच गई। घर से मायके जाते हुए नीतू ने ऐसी बात कही कि सत्यम की मां सरोज बाई ने जहर का सेवन कर लिया। मां को जहर का सेवन करते देख बेटे ने भी जहर खा लिया।

इसके बाद सत्यम मां सरोज को लेकर उमरियापान अस्पताल पहुंचा। उमरियापान में इलाज के दौरान सरोज की सेहत में सुधार हुआ, लेकिन बेटे सत्यम की तबियत बिगड़ती चली गई। उसे इलाज के लिए कटनी जिला अस्पताल रैफर किया गया और रात में मौत हो गई।

इसे भी पढ़ें-  Story Of Dashahari Aam : दशहरी आम के जनक की: तीन सौ साल है इस पेड़ की उम्र, 1600 वर्ग फीट में है फैला, पढ़ें इससे जुड़ा इतिहास

कुएं में गिरा बाइक सवार युवक
कैमोर थाना अंतर्गत देवरी मझगवां मोड़ पर रविवार देर रात युवक बाइक सहित कुएं में जा गिरा। पुलिस के अनुसार सोमवार सुबह ग्रामीणों द्वारा सूचना दी गई कि मझगवां मोड़ के पास स्थित खेत में बने कुएं के अंदर बाइक और युवक पड़े हैं। टीम मौके पर पहुंची। जहां पर ग्रामीणों की मदद से पुलिस टीम ने बाइक और मृत हो चुके युवक को बाहर निकाला। युवक की पहचान कैमोर के भटिया मोहल्ला निवासी धर्मेन्द्र सेन (24) के रुप में की गई है। शुरुआती जानकारी में पता चला है कि धर्मेन्द्र सेन रविवार रात बाइक में सवार होकर कैमोर से विजयराघवगढ़ जाने के लिए निकला था। देवरी मझगवां मोड़ की ओर मुडऩे की बजाय बाइक अनियंत्रित होकर खेत में बने कुएं में जा गिरी। जिसके कारण युवक की मौत हो गई। कुआं पूरी तरह सूखा है और कुएं पर मुडेर भी नहीं बनी है।

Advertisements