Promotion: 2021 में MP के राज्य प्रशासनिक सेवा के 18 अधिकारियों को होगा IAS अवार्ड

Advertisements

भोपाल । मध्य प्रदेश के लिए बड़ी खुशखबरी है। 2021 में राज्य प्रशासनिक सेवा (SAS) के अधिकारियों को भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) में पदोन्नति का जल्द तोहफा मिलने वाला है। इसके लिए सामान्य प्रशासन विभाग (Department of General Administration) ने तैयारी शुरू कर दी है। इसमें मध्य प्रदेश कैडर (MP Cadre) के वर्ष 1998 और 99 बैच के 18 राप्रसे अधिकारी का आईएएस अवार्ड (IAS Award) होने वाला है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राज्य प्रशासनिक सेवा अधिकारियों की पदोन्न्ति के लिए विभागीय पदोन्न्ति समिति (DPC) की बैठक जून-जुलाई में होगी। इसके लिए सामान्य प्रशासन विभाग ने तैयारियां शुरु कर दी है। SAS अधिकारियों के सेवा अभिलेखों की जांच की जा रही है, जैसे ही यह प्रक्रिया पूरी होगी, प्रस्ताव मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) के पास भेजा जाएगा। वहां से अनुमोदित होने के बाद प्रस्ताव को केंद्र सरकार (Central Government) को भेजा जाएगा।

इसे भी पढ़ें-  कटनी कोरोना अपडेट : 616 सेम्पल की रिपोर्ट में सीएमएचओ सहित आधा सैकड़ा नए पॉजीटिव केस

केन्द्र से हरी झंडी मिलते ही भारत सरकार द्वारा इसका नोटिफिकेशन (Notification) जारी कर दिया जाएगा ।उम्मीद की जा रही है कि अप्रैल से पहले इस प्रस्ताव को केन्द्र तक भेजा जा सके, ताकी कोई सुधार की आवश्यकता हो तो उसे ठीक कर दोबारा से भेजने का समय मिल सके।

खास बात ये है कि इस बार 1998 और 1999 बैच के राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के साथ 1994 बैच के विवेक सिंह और 1995 बैच के पंकज शर्मा के नाम पर भी विचार किया जा रहा है, चुंकी 2020 में सत्ता परिवर्तन और कोरोना वायरल (Coronavirus) के चलते पदोन्नति नहीं की जा सकी थी। वही मुख्यमंत्री कार्यालय (CM Office) में पदस्थ उप सचिव सुधीर कुमार कोचर नाम भी लिस्ट में शामिल है।

इसे भी पढ़ें-  कटनी कोरोना अपडेट : 616 सेम्पल की रिपोर्ट में सीएमएचओ सहित आधा सैकड़ा नए पॉजीटिव केस

इसके अलावा राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी  वरदमूर्ति मिश्रा और विनय निगम, 1998 और 1999 बैच के रानी बाटड, चंद्रशेखर शुक्ला, त्रिभुवन नारायण सिंह, नारायण प्रसाद नामदेव, दिलीप कुमार कापसे, बुद्धेश कुमार वैद्य, जयेंद्र कुमार विजयवत, डॉ.अभय अरविंद बेडेकर, अजय देव, नियाज अहमद खान, मनोज मालवीय, नीतू माथुर, अंजू पवन भदौरिया और जमना भिडे के नामों पर विचार किया जा सकता है।

Advertisements