बहन से प्रेम सम्बंध के चलते नाबालिग ने 10 वर्ष के बालक को उतारा था मौत के घाट, जानें पूरा मामला

Advertisements

यश भारत ब्रेकिंग अपडेट आशीष शुक्ला

जबलपुर के थाना बेलखेड़ा अंतर्गत गुमशुदा 10 वर्षिय बालक का शव जिला नरसिंहपुर थाना ठेमीं अतर्गत नर्मदा नदी के मुराच घाट में मिला 15 वर्षिय दोस्त के गुमशुदा 10 वर्षिय बालक की बहन से थे प्रेम सम्बंध थे।

10 वर्षिय बालक द्वारा 15 वर्षिय दोस्त से माता पिता को बताने की बात कहकर 100-200 रूपये एवं मोबाईल चलाने के लिये की जाती थी माॅग, जिससे तंग आकर 15 वर्षिय दोस्त ने बांस से सिर में हमला कर 10 वर्षिय बालक की हत्या कर शव को बहा दिया था।

हत्या करने वाला 15 वर्षिय अपचार बालक पुलिस गिरफ्त में है।

आपको बता दें कि

थाना बेलखेड़ा में दिनाॅक 6-3-21 को 4-30 बजे रामदास मल्लाह उम्र 42 वर्ष निवासी जुगपुरा बेलखेड़ा ने रिपोर्ट दर्ज करायी थी कि बेटा धनराज उर्फ राजा मल्लाह उम्र 10 वर्ष जो गाॅव में ही कक्षा तीसरी में पढता है दिनाॅक 5-3-21 को रात 8 बजे अपने चाचा छोटेलाल के घर जाने का कहकर घर से निकला था जो देर रात तक वापस नहीं आया, बेटे की तलाश किया कुछ पता नहीं चला। कोई अज्ञात उसके 10 वर्षिय बेटे को बहला फुसलाकर ले गया है। रिपोर्ट पर अपराध क्रमंाक 59/21 धारा 363 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया।

इसे भी पढ़ें-  तबियत को लेकर चल रही अफवाह पर कटनी कलेक्टर बोले-मेरा स्वास्थ्य बिल्कुल ठीक, जिले वासी स्वस्थ रहें यही कामना

10 वर्षिय बालक के लापता होने की घटना को गम्भीरता से लेते हुये पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा तलाश पतासाजी के सम्बंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण शिवेश बघेल एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण/अपराध गोपाल खाण्डेल के मार्ग दर्शन में अनुविभागीय अधिकारी पाटन देवी सिह ठाकुर एवं थाना प्रभारी बेलखेड़ा सुजीत श्रीवास्तव के नेतृत्व में क्राइम ब्रांच एवं थाना स्टाफ की टीमें गठित कर लगायी गयी।

गठित टीमों के द्वारा हर सम्भावित स्थानों पर 10 वर्षिय बालक राजा मल्लाह की तलाश पतासाजी करते हुये पूछताछ की गयी दौरान पूछताछ के विश्वसनीय सूत्रों से जानकारी लगी कि राजा मल्लाह घटना दिनाॅक को गाॅव के ही एक 15 वर्षिय किशोर के साथ नर्मदा नदी की तरफ जाता हुआ देखा गया है।

यह जानकारी लगते ही, जुगपुरा निवासी 15 वर्षिय किशोर से पूछताछ की गयी जिस पर पाया गया कि 15 वर्षिय किशोर के राजा मल्लाह की बहन से प्रेम सम्बंध थे, दिनाॅक 28-2-21 को राजा ने 15 वर्षिय किशोर को अपनी बहन के साथ बातचीत करते हुये देख लिया था, एवं अपने दोस्त 15 वर्षिय किशोर से कहा था कि यह बात वह अपने माता पिता को बतायेगा, जिस पर 15 वर्षिय किशोर ने राजा को 100 रूपये एवं मोबाईल चलाने को दिया था, किंतु राजा अपने 15 वर्षिय किशोर दोस्त से बार बार 100-200 रूपये एवं मोबाईल चलाने को मांगने लगा, जिससे तंग आकर 15 वर्षिय किशोर अपने 10 वर्षिय दोस्त राजा मल्लाह को दिनाॅक 5-3-21 की रात्रि में 8 बजे जब वह अपने घर से निकला था, जुगपुरा घाट ले गया, और वहीं पर पड़े बांस के डण्डे से राजा के सिर मे मारा जिससे राजा गिरकर बेहोश हो गया तो छोटी नाव (डुंढिया) में डालकर बीच नदी मे ले गया और बहा दिया तथा चुपचाप अपने घर आकर सो गया जब भी पुलिस एवं गाॅव वाले अपहृत राजा उर्फ धनराज को तलाश करते तो दिखावे के लिये साथ मे रहकर तलाश कराता रहा ।

इसे भी पढ़ें-  बड़ी खबर: जबलपुर में आज कोरोना 6 सौ पार, मिले 602 नए पॉजिटिव

15 वर्षिय अपचारी बालक द्वारा राजा उर्फ धनराज मल्लाह की बांस के डण्डे से सिर में वार कर नदी मे बहा देने की स्वीकारोक्ति पर अलग अलग टीमें गठित कर एन.डी.आर.एफ. एवं स्थानीय नाविकों के माध्यम से नर्मदा नदी के किनारे एवं घाटों पर राजा उर्फ धनराज मल्लाह की तलाश करवाई गयी। दोैरान तलाश के आज दिनाॅक 14-3-21 को राजा उर्फ धनराज मल्लाह का शव जिला नरसिंहपुर थाना ठेमीं अंतर्गत नर्मदा नदी के मुराच घाट में उतराता हुआ मिला है।

15 वर्षिय अपचार बालक के द्वारा 10 वर्षिय बालक की हत्या कर साक्ष्य छिपाये जाने के उद्देश्य से नदी मे शव को बहाया जाना पाये जाने पर प्रकरण में धारा 302, 201 भादवि का इजाफा करते हुये 15 वर्षिय अपचार बालक की निशादेही पर घटना में प्रयुक्त बांस का डण्डा एवं छोटी नाव जप्त करते हुये प्रकरण मे विधिवत गिरफ्तार कर दिनाॅक 15-3-21 को 15 वर्षिय अपचारी बालक को किशोर न्याय बोर्ड के समक्ष पेश किया जायेगा।

Advertisements