जनभागीदारी से से जीवंत हुआ दांडी कूच, केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटैल कर रहे नेतृत्व

Advertisements

अहमदाबाद। 12 मार्च 1930 को अहमदाबाद के साबरमती आश्रम से आरंभ हुई दांडी यात्रा ज्यों-ज्यों आगे बढ़ रही है। त्यों-त्यों पदयात्रियों के साथ स्थानीय लोगों की भी सहभागिता बढ़ रही है। केंद्रीय संस्कृति मंत्री श्री प्रह्लाद पटेल के नेतृत्व में एक बार फिर दांडी की यात्रा जीवंत हो रही है।

रविवार को यह यात्रा नवागांव जिला खेडा से आगे निकली। यहां केंद्रीय मंत्री श्री गिरिराज सिंह भी यात्रा में शामिल हुए। रास्ते में जगह – जगह ग्रामीणों ने फूलमालाओं और सूत की माला से पदयात्रियों का भव्य स्वागत किया गया। गांव बहराई में लोगों ने निम्बू पानी व शरबत पिलाकर यात्रियों की सेवा की। गांव गोविंदपुरा पंहुचकर यात्रा ने विश्राम किया।

इसे भी पढ़ें-  महाराष्ट्र में अभी पूर्ण लॉकडाउन नहीं, ब्रेक द चेन' मुहिम शुरू- उद्धव

इस अवसर पर पत्रकारों से बातचीत में केंद्रीय मंत्री श्री गिरिराज सिंह ने बताया कि खुशी का विषय है कि माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की प्रेरणा से स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगाँठ के अवसर पर आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। महात्मा गांधी सहित देश के वीर सेनानियों ने आजादी के लिये अविस्मरणीय कार्य किया। यह यात्रा इन सेनानियों को विनम्र श्रद्धांजलि है। इससे पूर्व नवागांव में रात्रि विश्राम के दौरान उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए संस्कृति मंत्री श्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने कहा कि भारत की स्वतंत्रता के लिए गांधी जी का दांडी मार्च आज भी मुश्किल वक्त में सही फैसला करने की राह दिखाता है और लोगों को त्याग की अहमियत समझाता है।

इसे भी पढ़ें-  बड़ी खबर: कटनी में फिर बड़ा कोरोना विस्फोट, 387 सेम्पल की रिपोर्ट में 154 नए कोरोना पॉजिटिव

यही वजह है क‍ि करीब 91 साल बाद जब हम उसी मिट्टी पर आजादी के 75 साल के अमृत उत्सव के मौके पर पदयात्रा कर रहे हैं, तब देश के हालात बदले हुए हैं। अब हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते हैं कि भारत का सफर अब स्वाबलंबन और स्वाभिमान के साथ तय होगा। हम दुनिया के सामने अब याचक नहीं होंगे। हमारी छवि अब दुनिया अपने केनवास पर दाता के रूप में बनाएगी।

हमने विश्‍व में संकट के समय में दवा हो या वैक्सीन दूसरे देशों को अपना कुंटुंबी मानकर पहुंचाई है। हम श्रम की भाषा इसलिए बोलना चाहते हैं कि हमारी आने वाली नस्ले दीनता की भाषा न बोलें।

इसे भी पढ़ें-  सावधान..MP में फेक न्यूज़ के खिलाफ सख्त हुई सरकार, गलत खबर फैलाने पर होगी कार्रवाई

प्रधानमंत्री का कहना है कि देश जब आजादी का सौवां महोत्सव मनाएगा तो पूरी दुनिया के सामने हम एक ऐसा उदाहरण होगें, जिसके विजय गीत दुनिया के हर आंगन में दोहराए जाएंगे और हमारी संस्कृति का वैभव गान हर दिल में होगा।

इस अवसर पर स्थानीय सांसद श्री देव सिंह चौहान, विधायक अर्जुन सिंह गांधी स्मृति एवं दर्शन समिति के निदेशक श्री दीपंकर श्री ज्ञान सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

Advertisements