जबलपुर, रीवा, सागर, ग्वालियर-चंबल में मिली सकती है थोड़ी राहत;12 मार्च तक बूंदाबांदी की संभावना

Advertisements

भोपाल, जबलपुर। मध्यप्रदेश में मौसम के तेवर लगातार तीखे होते जा रहे है। इसका कारण कोई सिस्टम नहीं होने से सूरज की सीधी किरणे आना है। खरगोन में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले समय में तापमान में उतार चढ़ाव बना रहेगा। वहीं, दो पश्चिमी विक्षोभ बनने के कारण 12 मार्च तक प्रदेश के कुछ संभाग में बूंदाबांदी होने की भी संभावना जताई है।

मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि अब तापमान में अंतर एक या दो डिग्री कम ज्यादा ही होने की संभावना है। प्रदेश में दो पश्चिमी विक्षोभ आ रहे है। एक मंगलवार को और दूसरा 11 मार्च को आएगा। इसकी वजह से भोपाल समेत कुछ जगह हल्के बादल छा सकते है। वहीं, 12 मार्च तक जबलपुर, रीवा, सागर, ग्वालियर और चंबल संभाग में गरज चमक के साथ हल्की बूंदाबांदी हो सकती है।

इसे भी पढ़ें-  इशारा: मध्य प्रदेश में भाजपा का मतलब शिवराज सिंह चौहान नहीं- राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री

खरगोन में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस

मौसम विभाग के अनुसार भोपाल में न्यूनतम तापमान 16.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। प्रदेश में सबसे कम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस उज्जैन और मंडला में दर्ज किया गया है। वहीं, सबसे अधिक अधिकतम तापमान 40 डिग्री खरगोन में दर्ज किया गया है।

जिला अनुसार अधिकतम और न्यूनतम तापमान(डिग्री सेल्सियस में)

जिला अधिकतम न्यूनतम

छिदवाड़ा 35.4 16.6

दमोह 37.2 17.6

जबलपुर 35.6 18.6

खजुराहो 38.0 15.6

नौगांव 36.8 16.5

रीवा 36.6 15.0

सागर 36.6 19.0

सतना 36.8 17.8

सीधी 36.2 19.6

उमरिया 36.2 16.8

बैतूल 36.0 16.7

भोपाल 37.7 16.2

दतिया 37.2 17.6

इसे भी पढ़ें-  ब्यौहारी में NIA की जांच! झारखंड ब्लास्ट मामले के तार जुड़े कटनी और शहडोल से ?

गुना 37.0 18.0

ग्वालियर 36.4 18.9

होशंगाबाद 37.2 17.6

इंदौर 35.4 17.8

खंडवा 37.5

खरगौन 40.0

पचमढ़ी 31.8 15.8

रायसेन 36.8 16.4

शाजापुर 36.0 18.2

उज्जैन 35.7 14.2

Advertisements