नरसिंहपुर में 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते पकड़ में आया जनपद CEO

Advertisements

नरसिंहपुर, Narsinghpur News। नरसिंहपुर जिले की जनपद पंचायत चांवरपाठा के सीईओ रविंद्र गुप्ता को बुधवार की दोपहर जबलपुर से आई लोकायुक्त की टीम ने 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए पकड़ लिया। करीब 8 वाहनों से आई 12 सदस्यीय टीम जैसे ही जनपद में पहुंची और कार्रवाई शुरू की तो हड़कंप की स्थिति बन गई। जनपद सीईओ द्वारा बरमान रेतघाट में मकर संक्रांति मेला के दौरान लगाए गए सीसीटीवी कैमरे के लंबित भुगतान को करने के एवज में करेली निवासी अनुज ममार से 25 हजार रुपये की रिश्वत मांगी जा रही थी।

जिसमें ममार ने 15 हजार रुपये की पहली किस्त देने के साथ ही जबलपुर लोकायुक्त को साक्ष्य उपलब्ध कराते हुए शिकायत करीब एक सप्ताह पहले की थी। जिसके बाद बुधवार को लोकायुक्त डीएसपी दिलीप झरबड़े की अगुवाई में आई टीम ने जनपद पंचायत चांवरपाठा के केबिन में सीईओ गुप्ता को 500-500 रुपये के नोट जो 10 हजार थे लेते हुए रंगे हाथो दबोच लिया।

इसे भी पढ़ें-  ब्यौहारी में NIA की जांच! झारखंड ब्लास्ट मामले के तार जुड़े कटनी और शहडोल से ?

 

लोकायुक्त डीएसपी श्री झरबड़े ने बताया कि तय योजना के अनुसार जैसे ही शिकायतकर्ता ने सीईओ को पैसे दिए तो उन्हें टीम में शामिल दो सदस्यों ने केबिन में जाते ही पकड़ लिया और फिर आगे की कार्रवाई शुरू की। बताया जाता है कि कार्रवाई होने के बाद सीइओ इस तरह घबराए कि उनकी हालत सामान्य होने तक अधिकारियों को इंतजार करना पड़ा। जानकारी अनुसार मेले में सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए ममार इंटरप्राइजेस की ओर से टेंडर लगा था। जिसमें करीब 1 लाख 51 हजार 400 रुपये का भुगतान लंबित था।

Advertisements