LOVE में पागल दो बच्चों की मां देवर के साथ भागी, फिर लौटी तो…

Advertisements

भागलपुर: कहते हैं ना प्यार की कोई उम्र नहीं होती है और वह कभी भी हो सकता है। एक ऐसा ही मामला बिहार के भागलपुर से आया है जहां एक महिला को अपने ही देवर से इश्क हो गया। दो बच्चों की मां महिला को जब घरवालों ने देवर के साथ इश्क फरमाते हुए पकड़ लिया उसे हिदायत भी दी गई लेकिन दिल पर भला किसका जोर चलता है। देवर के प्यार में डूबी महिला उसी के सपनों में डूबे रहने लगी और प्यार के सपने सजाने लगी। एक दिन ऐसा आया जब वह अपने प्रेमी यानि देवर के साथ घर से फुर्र हो गई।

इसे भी पढ़ें-  Bride Slapped Groom : विदा होकर ससुराल पहुंची दुल्हन ने गाड़ी से उतरते ही दूल्हे को जड़ा थप्पड़, फिर...

भागलपुर का है मामला

मामला भागलपुर के इशाकचक थाना क्षेत्र का है जहां महिला रिश्ते में अपने देवर लगने वाले शख्स को दे बैठी।

खबर के मुताबिक, युवक महिला की रिश्तेदारी में आता था और अक्सर उसके घर आता-जाता रहता था। धीरे-धीरे दोनों में बातचीत होने लगी तो नजदीकियां बढ़ने लगी और एक दूसरे को दोनों दिल दे बैठे। इसके बाद मुलाकातों का सिलसिला चलते रहा तो दोनों ने साथ जीने-मरने की कसम खा ली। इसके बाद महिला के व्यवहार में बदलाव देखकर घरवालों को भी शक होने लगा।

घरवालों ने किया विरोध

घरवालों का शक उस समय यकीन में बदल गया जब उन्हें पता चला कि महिला युवक के प्यार में है। इसके बाद परिवार वालों ने इसका विरोध किया और युवक का महिला के घर पर आना बंद हो गया। लेकिन महिला तो मानों प्यार में पागल थी उसे किसी की बाद का फर्क नहीं पड़ा और उसने प्रेमी देवर के साथ बातचीत जारी रखी और एक नई योजना तैयार कर डाली। मौका पाकर एक दिन दोनों घर से फरार हो गए।

इसे भी पढ़ें-  Bride Slapped Groom : विदा होकर ससुराल पहुंची दुल्हन ने गाड़ी से उतरते ही दूल्हे को जड़ा थप्पड़, फिर...

अचानक लौटी महिला

करीब चार दिन बाद दो बच्चों की मां जब प्रेमी के साथ भागी तो गांव में हल्ला मच गया। महिला के परिजनों ने इसे लेकर पुलिस में तहरीर दी। चार दिन बाद महिला प्रेमी के साथ गांव लौटी तो देवर के साथ ही रहने पर अड़ गई। इसके बाद सभी लोगों ने बच्चों का हवाला देकर उसे मनाने का प्रयास किया लेकिन महिला पर कोई असर नहीं हुआ। यहां तक पुलिस के सामने भी दोनों को पेश किया गया लेकिन वह प्रेमी के साथ रहने की जिद पर अड़ी रही। पुलिस ने लिखित तौर पर दोनों पक्षों से बयान लिए हैं और मामले का हल निकालने के लिए महिला हेल्पलाइन से काउंसलर को बुलाया गया।

Advertisements