सैनिक स्कूल की तर्ज पर तैयार होंगे मध्‍य प्रदेश के तीन नवोदय स्कूल

Advertisements

भोपाल ।  शिक्षा मंत्रालय ने देश के हर जिले में एक स्कूल को सैनिक स्कूल पैटर्न पर शुरू करने की योजना बनाई है। बच्चों के बीच देश व समाज के प्रति आदर और उनके अंदर देशहित की भावना तैयार करने के लिए स्कूलों को सैनिक स्कूल की तरह तैयार किया जाएगा। इसके साथ ही विद्यार्थी शारीरिक रूप से थल सेना, जल सेना और वायु सेना के लिए तैयार हो सकेंगे।

इस योजना के तहत नवोदय विद्यालय समिति के सहायक आयुक्त मृदुला त्रिपाठी द्वारा पांच नवोदय विद्यालयों को स्कूलों को सैनिक स्कूल योजना के तहत तैयार करने के लिए नवोदय विद्यालय समिति के भोपाल रीजन के उपायुक्त को पत्र लिखकर अनुशंसा की है। यह अनुशंसा उन स्कूलों के लिए की गई है, जो योजना के तहत तय मापदंड को पूरा कर रहे हैं। जिनमें 11वीं तक विज्ञान संकाय हो, साथ ही प्रयोगशाला हो और एनसीसी की यूनिट भी होनी चाहिए। इसके अलावा आर्मी, एयरफोर्स व नेवी की यूनिट भी पास हो और स्कूल नजदीकी रेलमार्ग से जुड़े हों।

इसे भी पढ़ें-  अच्छी खबर: पॉजीटिव केस से ज्यादा स्वस्थ, 502 सेम्पल की रिपोर्ट में 169 केस, 203 ने दी कोरोना को मात

 

इसके लिए नवोदय विद्यालय समिति ने भोपाल रीजन के पांच स्कूलों के नाम की अनुशंसा की थी। इसमें प्रदेश के तीन नवोदय स्कूल के नाम भेजे गए हैं। भोपाल समेत प्रदेश के सीहोर और कटनी स्थित जवाहर नवोदय स्कूल शामिल है। साथ ही छत्तीसगढ़ के रायपुर और ओडिशा के बालासोर के भी जवाहर नवोदय विद्यालय का नाम भी शामिल है।

Advertisements