President Jabalpur Visit: डुमना विमानतल पहुँचे महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद

Advertisements

जबलपुर ।  राष्ट्रपति  रामनाथ कोविंद भारतीय वायुसेना के विमान से नई दिल्ली से जबलपुर के डुमना विमानतल पहुँचे ।

सुबह 11 बजे मानस भवन में आयोजित ऑल इंडिया ज्यूडिशियल एकेडमीज डायरेक्टर्स रिट्रीट कार्यक्रम के उद्घाटन सत्र तथा शाम सात बजे ग्वारीघाट में मां नर्मदा महाआरती में शामिल होंगे। राष्ट्रपति शनिवार शाम उच्च न्यायालय परिसर में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं सेरेमोनियल डिनर में शामिल होने के बाद दूसरे दिन सात मार्च की सुबह 9.30 बजे दमोह जिले के ग्राम जलहरी स्थित हेलीपेड के लिए प्रस्थान करेंगे। जहां से कार द्वारा सिंग्रामपुर पहुंचकर रानी दुर्गावती की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित करेंगे। सिंग्रामपुर में ही आयोजित जनजातीय सम्मेलन में शामिल होकर दोपहर 2.40 बजे हेलीकॉप्टर से डुमना के लिए रवाना होंगे। राष्ट्रपति डुमना विमानतल से दोपहर 3.30 बजे वायुसेना के विमान से नई दिल्ली प्रस्थान करेंगे।

इसे भी पढ़ें-  Story Of Dashahari Aam : दशहरी आम के जनक की: तीन सौ साल है इस पेड़ की उम्र, 1600 वर्ग फीट में है फैला, पढ़ें इससे जुड़ा इतिहास

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद दो दिवसीय प्रवास पर विमान से जबलपुर पहुंचे। डुमना एयरपोर्ट पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और सीएम शिवराज सिंह चौहान ने उनका स्वागत किया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सुबह 11 बजे मानस भवन में आयोजित ऑल इंडिया ज्यूडिशियल एकेडमीज डायरेक्टर्स रिट्रीट कार्यक्रम के उद्घाटन सत्र तथा शाम सात बजे ग्वारीघाट में मां नर्मदा महाआरती में शामिल होंगे। राष्ट्रपति शनिवार शाम उच्च न्यायालय परिसर में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं सेरेमोनियल डिनर में शामिल होने के बाद दूसरे दिन सात मार्च की सुबह 9.30 बजे दमोह जिले के ग्राम जलहरी स्थित हेलीपेड के लिए प्रस्थान करेंगे। जहां से कार द्वारा सिंग्रामपुर पहुंचकर रानी दुर्गावती की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित करेंगे। सिंग्रामपुर में ही आयोजित जनजातीय सम्मेलन में शामिल होकर दोपहर 2.40 बजे हेलीकॉप्टर से डुमना के लिए रवाना होंगे। राष्ट्रपति डुमना विमानतल से दोपहर 3.30 बजे वायुसेना के विमान से नई दिल्ली प्रस्थान करेंगे।

इसे भी पढ़ें-  Story Of Dashahari Aam : दशहरी आम के जनक की: तीन सौ साल है इस पेड़ की उम्र, 1600 वर्ग फीट में है फैला, पढ़ें इससे जुड़ा इतिहास

 

मां नर्मदा महाआरती व हाई कोर्ट के आयोजन में शामिल होंगे: जीवनदायिनी मां नर्मदा नदी के तट पर शनिवार को महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पहुंचेंगे और नर्मदा महाआरती के मुख्य अतिथि होंगे। जिला प्रशासन ने देश के प्रथम नागरिक और अन्य वीवीआइपी के आगमन को लेकर तैयारियां की हैं। आप यदि आज शहर के व्यस्त रास्तों से निकलने का प्लान बना रहे हैं तो थोड़ा संभलकर जाएं। कारण जिला प्रशासन ने राष्ट्रपति के आगमन को लेकर शहर की कई प्रमुख सड़कों को डायवर्ट किया है। राष्ट्रपति व सीजेआइ का काफिला सड़क पर बिना किसी परेशानी से गुजर सके, इसके लिए ट्रैफिक पुलिस ने कई स्थानों पर रूट डायवर्ट किए हैं। साथ ही कई प्रमुख सड़कों पर वाहनों का आवागमन प्रतिबंधित रहेगा। काफिला निकलने के दौरान कई मार्गों पर कुछ देर के लिए ट्रैफिक रोक दिया जाएगा। राष्ट्रपति के आगमन के बाद डुमना एयरपोर्ट से सर्किट हाउस नंबर-एक तक आम नागरिकों के वाहनों की आवाजाही प्रतिबंधित रहेगी। राष्ट्रपति के आगमन को लेकर ग्वारीघाट में साफ-सफाई और आकर्षक सजावट के साथ सख्त सुरक्षा व्यवस्था बनाई गई है।

Advertisements