MP Education News: फिलहाल अप्रैल से नहीं लगेंगी पहली से पांचवीं तक की कक्षाएं

Advertisements

भोपाल। प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते केस के कारण पहली से पांचवीं तक की कक्षाएं अप्रैल से नहीं लगाई जाएंगीं। छठवीं से आठवीं तक की कक्षाएं खोलने पर जल्द निर्णय लिया जाएगा।

यह बात स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री इंदर सिंह परमार ने गुरुवार को पत्रकारों से चर्चा के दौरान कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश में लगातार कोरोना के केस बढ़ रहे हैं।

भोपाल और इंदौर में अधिक केस सामने आ रहे हैं। इसे देखते हुए हर सप्ताह समीक्षा कर रहे हैं। उसी के आधार पर माध्यमिक कक्षाओं को खोलने का निर्णय लिया जाएगा, लेकिन प्रायमरी की कक्षाओं को अभी नहीं खोला जाएगा।

इसे भी पढ़ें-  EarthQuake: भूकंप के झटके से कांपा अरुणाचल प्रदेश, रिक्टर स्केल पर 3.6 रही तीव्रता

मंत्री ने कहा कि अभी मप्र बोर्ड 10वीं व 12वीं की परीक्षा आयोजित कराना पहली प्राथमिकता है। स्कूलों के लिए गाइडलाइन जारी कर दी गई है 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा ऑफलाइन ही होगी।

उन्होंने कहा कि यह बच्चों के भविष्य का सवाल है। हालांकि निजी स्कूलों को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से परीक्षा कराने की छूट दी है। वे अपनी सुविधा और गाइडलाइन का पालन करते हुए निर्णय ले सकते हैं।

मनमानी फीस नहीं वसूल सकेंगे निजी स्कूल

मंत्री परमार ने कहा कि अभी तक निजी स्कूलों पर अंकुश लगाने के लिए कोई कानून नहीं था। अब नए प्रविधान के अनुसार स्कूल मनमानी फीस नहीं ले सकेंगे। अगर कोई स्कूल फीस बढ़ाना चाहता है, तो उसे पहले शासन से अनुमति लेनी होगी। सिलेबस को लेकर भी फीस एक्ट में स्पष्ट निर्देश है। तीन साल तक सिलेबस में बदलाव नहीं किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें-  बड़ी खबर: पिता और बेटे की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर सागर कलेक्टर दीपक सिंह हुए होम क्वारंटाइन

राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन पर राष्ट्रीय संगोष्ठी आज से

राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन की दिशा में विचार-विमर्श करने के लिए दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन शुक्रवार से किया जा रहा है। मंत्री ने कहा कि नई शिक्षा नीति से क्षेत्रीय भाषाओं को बढ़ावा मिलेगा। संगोष्ठी में देशभर के विश्वविद्यालयों के कुलपति, शिक्षाविद, शिक्षा के क्षेत्र के कार्यकर्ता और नीति-निर्माता भाग लेंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार सुबह 10:30 बजे संगोष्ठी का शुभारंभ करेंगे। समापन समारोह के मुख्य अतिथि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सह कार्यवाह दत्तात्रेय होसबले होंगे। वहीं राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद के अध्यक्ष विनीत जोशी इस कार्यक्रम अतिथि होंगे।

Advertisements