लड़की ने दलित संग भागकर की शादी, HC ने दी सुरक्षा फिर भी पिता ने बेटी को उतारा मौत के घाट

Advertisements

राजस्थान में 18 साल की एक लड़की का दलित लड़के के साथ प्यार करना उसके लिए काल बन गया। राजस्थान के दौसा में एक पिता ने अपनी बेटी की हत्या कर दी। लड़की एक दलित लड़के से प्यार करती थी और कुछ दिनों पहले ही उन दोनों की शादी हुई थी। यहां सबसे हैरानी की बात यह है कि लड़की को राजस्थान हाईकोर्ट की ओर से सुरक्षा मिली हुई थी, तब भी उसकी जान नहीं बची।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, जिस लड़की की हत्या की गई है, उसका नाम पिंकी सैनी है और वह 24 साल के रोशन महावार से प्यार करती थी। 16 फरवरी को उन दोनों की शादी हुई थी और 21 फरवरी को पिंकी रोशन के साथ घर से भाग गई थी। 26 फरवरी को वे दोनों राजस्थान हाईकोर्ट के समक्ष पेश हुए थे और सुरक्षा की गुहार लगाई थी, जिसके बाद कोर्ट ने उन्हें सुरक्षा प्रदान की थी।

इसे भी पढ़ें-  शरीर में उथल-पुथल मचा दे रहा कोरोना का वायरस, हार्ट अटैक और ब्रेन स्‍ट्रोक की भी बन रहा वजह

वहीं, समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, एसपी अनिल बेनीवाल ने कहा, ‘लड़की की शादी 16 फरवरी को हुई थी मगर घर लौटने के बाद वह अपने प्रेमी के साथ भाग गई। बाद में उसके पिता ने आरोप लगाया कि उसका अपहरण कर लिया गया था। आज लड़की के पितान ने आत्मसमर्पण कर दिया और कहा कि उसने अपनी बेटी को मार डाला।’

पुलिस अधिकारी ने कहा कि मृतक लड़की और उसके प्रेमी ने पहले अपनी सुरक्षा को लेकर हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की थी। इसके बाद अदालत ने इस कपल को सुरक्षा प्रदान करने के निर्देश दिए थे। जैसे ही यह कपल जयपुर से दौसा लौटा, पीड़िता के परिजन उसे जबरन अपने घर ले गए।

इसे भी पढ़ें-  कोरोना संकट के बीच वायुसेना ने संभाला मोर्चा, एयरलिफ्ट कर पहुंचा रही ऑक्सीजन, दवाइयां

उसके बाद मतृक लड़की के प्रेमी ने अपहरण का मामला दर्ज किया। पुलिस अधिकारी ने कहा कि लड़की के पिता ने अपनी बेटी की हत्या के लिए आत्मसमर्पण किया है और आगे की जांच चल रही है।

Advertisements