Priyanka Gandhi in Assam: प्रियंका ने कहा- कांग्रेस सत्ता में आई तो महिलाओं को मिलेगा प्रति माह 2 हजार रुपये ‘गृहिणी सम्मान’

Advertisements

तेजपुर। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने मंगलवार को असम (Assam Assembly Elections 2021) के तेजपुर में एक चुनावी सभा को संबोधित किया। प्रियंका गांधी ने कहा कि असम आपकी मां है और आप अपनी पहचान व अस्तित्व बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं। भाजपा सरकार ने आपसे किए हुए वादे पूरे नहीं किए और आपकी पहचान पर भी हमला किया। हम वादे नहीं, आपको गारंटी दे रहे हैं। यदि कांग्रेस असम में सत्ता में आई तो हम ऐसा कानून बनाएंगे, जिससे CAA यहां लागू नहीं होगा। साथ ही, असम की गृहिणियों के लिए प्रति माह 2000 रुपये गृहिणी सम्मान राशि दी जाएगी।

इसे भी पढ़ें-  सागर में कोरोना की अब तक की सबसे बड़ी सुनामी, एक ही दिन में 278 पॉजिटिव, जिले में 21 तक लगा कोरोनो कर्फ्यू

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने अपने संबोधन में कहा कि राज्य में बिजली के 200 यूनिट मुफ्त मिलेंगे, जिससे हर महीने 1400 रुपये की बचत होगी। साथ ही, हम चाय के बागान के श्रमिकों को प्रति दिन 365 रुपये का पारिश्रमिक देंगे। इसके अलावा प्रियंका ने कहा हम युवाओं को 5 लाख रोजगार भी देंगे।

इससे पहले सोमवार को असम में प्रियंका ने महिलाओं से आग्रह किया था कि वे आगामी चुनाव में जिम्मेदारी से मतदान करें, क्योंकि यह उनके और उनके बच्चों के भविष्य के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। उन्होंने दावा किया कि राज्य में महिलाओं के प्रति अपराध की दर देश में सबसे ज्यादा है और वर्तमान सरकार ने स्थिति को सुधारने के लिए कुछ नहीं किया। वह विश्वनाथ जिले के गोहपुर में स्वयं सहायता समूह के सदस्यों और चाय बागान में काम करने वाली महिलाओं से बातचीत कर रही थीं।

इसे भी पढ़ें-  केंद्र के किस फैसले से खुश होकर उद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी को दिया धन्यवाद? जानें पूरा मामला

प्रियंका गांधी ने कहा था कि आप जब मतदान करें तो ध्यान से व सोच कर मतदान करें और समझें कि जिस राजनीतिक पार्टी या नेताओं को आप चुन रहे हैं, वे आपके बच्चों का भविष्य बेहतर बनाने के लिए नीतियां तैयार करने के योग्य हैं या नहीं। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता देश भर में घूम-घूमकर संशोधित नागरिकता कानून लागू करने की बातें कर रहे हैं, लेकिन असम में आते ही वे इसपर चुप्पी साध लेते हैं।

Advertisements