Katni: ट्रेन की प्रतीक्षा करते एक दूसरे से बिछड़े पति-पत्नी

Advertisements

कटनी। रीठी थाना अंतर्गत ग्राम देवगांव हरदुआ से लगभग एक माह पूर्व उपचार कराने गए ग्वालियर गए पति-पत्नी ग्वालियर स्टेशन में ट्रेन की प्रतीक्षा करते हुए आपस में बिछड़ गए। मानसिक रूप से कमजोर पत्नी की तलाश में पहले तो पति यहां-वहां उसकी खोजखबर लेता रहा लेकिन जब उसका कहीं कोई पता नहीं चला तो इसकी सूचना रेल पुलिस को दी। रेल पुलिस ने भी मामले में गुमइंसान कायम किया लेकिन फिर आगें कार्रवाई व लापता महिला की तलाश करना भूल गई। जिसकी वजह से पत्नी से बिछड़ने के बाद से पति उसकी तलाश में परेशान है।

ग्वालियर स्टेशन की घटना, देवगांव हरदुआ के हैं दंपत्ति

इस संबंध में मिली जानकारी के मुताबिक ग्राम देवगांव हरदुआ निवासी सरगम पारधी की 20-22 वर्षीय पत्नी चमकीना बाई की मानसिक स्थिति ठीक न होने के कारण पति सरगम उसका उपचार कराने बीते जनवरी माह में उसे ग्वालियर ले गया। बताया जाता है कि ग्वालियर में हकीम गुनिया के पास उपचार कराने के बाद दोनों पति-पत्नी ग्वालियर स्टेशन पहुंचे और कटनी आने ट्रेन की प्रतीक्षा करने लगे। इसी दौरान पत्नी चमकीना बाई लघुशंका के लिए गई और फिर इसके बाद वह लापता हो गई।

काफी देर तक पत्नी चमकीना बाई जब वापस नहीं लौटी तो पति सरगम उसकी खोजखबर लेने निकला लेकिन चमकीना बाई न तो उसे स्टेशन के सुलभ शौचालय में मिली और न ही काफी तलाश करने के बाद वह ग्वालियर स्टेशन में मिली।

जिसके बाद सरगम के द्धारा पत्नी चमकीना बाई के लापता होने की शिकायत रेल पुलिस से की गई। रेल पुलिस ने गुमइंसान कायम किया और फिर इसके बाद लापता चमकीना बाई की तलाश करना भूल गई। उधर सरगम ने भी रेल पुलिस पर चमकीना को तलाश न करने का आरोप लगाया है। सरगम का कहना है कि उसके तीन छोटे-छोटे बच्चे हैं। जिनका मां से बिछड़ने के बाद रो-रो कर बुरा हाल है। सरगमन ने पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों का ध्यान इस ओर आकर्षित कराते हुए चमकीना की तलाश में मदद करने की मांग की है।

Advertisements