पन्ना में गश्ती दल पर सागौन तस्करों ने किया हमला, तीन वनकर्मी घायल

Advertisements

पन्ना । पन्ना जिले में वन विभाग के गश्ती दल पर सागौन तस्करों ने प्राणघातक हमला कर दिया, जिसमें तीन वनकर्मी घायल हुए हैं। घायलों को देर रात जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। एक घायल की हालत गंभीर है। हमलावरों ने वनकर्मियों को दौड़ा-दौड़ाकर तब तक मारा, जब तक वे बेसुध होकर गिर नहीं गए। पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। अन्य की तलाश की जा रही है। मामला जिले के उत्तर वनमंडल का है।

वनकर्मी शनिवार शाम जंगल में जब गश्त कर रहे थे, उसी समय लगभग एक दर्जन तस्करों ने कुल्हाड़ी और लाठियों से हमला कर दिया। हमलावरों ने वनकर्मियों को पकड़कर बेरहमी से मारा। वन परिक्षेत्राध‍िकारी अजय बाजपेयी ने बताया कि सुरक्षा समिति के सुरक्षाकर्मी गोविंद सिंह यादव ने किसी तरह घटना की सूचना दी, तब घायल वनकर्मियों को जंगल से ढूंढकर उन्हें देर रात जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

बाजपेयी ने बताया कि वनरक्षक छत्रपाल सिंह को कुल्हाड़ी और डंडों की घातक चोटें आई हैं। हमले में वनकर्मी स्वामीदीन कुशवाहा और वन सुरक्षा समिति सुरक्षाकर्मी गोविंद सिंह यादव भी घायल हुए हैं।

रोकने की कोशिश की तो कर दिया हमला

घटनाक्रम के अनुसार 13 फरवरी को शाम लगभग साढ़े पांच बजे उत्तर वनमंडल के वन परिक्षेत्र विश्रामगंज का यह गश्ती दल कौवा सेहा के पास पटार चौकी क्षेत्र में गश्त कर रहा था। उसी समय इन्हें सागौन के पेड़ कटने की आहट मिली। गश्ती दल ने मौके पर पहुंचकर उन्हें रोकने की कोशिश की तो कुल्हाड़ी और लाठियों से लैस दर्जनभर सागौन तस्करों ने अचानक हमला कर दिया। यह सब इतना अप्रत्याशित और अचानक हुआ कि वनकर्मी संभल भी नहीं पाए। हमलावरों ने उनको घेरकर बुरी तरह से मारा जिससे वनकर्मी लहूलुहान हो गए।

Advertisements