प्रताप बाजवा का आरोप, केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्विटर पर किया ब्लॉक

संसद सदस्य को ब्लॉक करने के लिए सुषमा स्वराज जी के कार्यालय ऐसा व्यवहार करेगा?

बतां दे  संसद मैंबर और कांग्रेस के पूर्व प्रदेश प्रधान प्रताप सिंह बाजवा ने ट्वीट करके कहा था कि भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की तरफ से इराक में लापता 39 भारतीयों के बारे में बोले झूठ का खुलासा हो चुका है। उन्होंने कहा था कि मंत्री ने लोगों को यह कह कर गुमराह किया है कि लापता भारतीय बादुश की जेल में हैं, लेकिन सचाई यह है कि आईएसआई ने यह जेल पहले ही तबाह कर दी थी।

उन्होंने कहा था कि विदेश मंत्री ने ऐसा करके पीड़ित परिवारों की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। जिस के खिलाफ वह जल्दी ही संसद में विशेष अधिकार प्रस्ताव पेश करेंगे। इससे पहले भी प्रताप सिंह बाजवा ने संसद में 39 भारतीयों का मुद्दा उठाया था। जिस दौरान उन्होंने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को यह सवाल पूछा था कि उनके लापता 39 भारतीय बच्चे कहां हैं। गौरतलब है कि विदेश राज मंत्री वी.के. सिंह ने कुछ दिन पहले कहा था कि इराक के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार की तरफ से उन्हें बताया गया है कि तीन साल पहले इराक में लापता हुए भारतीयों को आईएसआई की तरफ से मोसुल नजदीक बादुश की जेल में कैद कर दिया गया था। अभी हालात ऐसे नहीं हैं कि बादुश जेल की तलाशी ली जा सके। हालात ठीक होने के बाद ही जेल की तलाशी ली जाएगी। उसके बाद ही असली स्थिति के बारे में जानकारी मिलेगी।