भारत रिकॉर्ड का मौका चूका, ऑस्ट्रेलिया ने चौथा वनडे जीता

Advertisements

बेंगलुरू। ऑस्ट्रेलिया ने गुरुवार को चौथे वनडे में भारत को 21 रनों से हराकर सीरीज में पहली जीत दर्ज की। इस हार के साथ ही टीम इंडिया ने परफेक्ट 10 का रिकॉर्ड बनाने का मौका गंवा दिया। डेविड वॉर्नर (124) और एरोन फिंच (94) के बीच दोहरी शतकीय भागीदारी से ऑस्ट्रेलिया ने 5 विकेट पर 334 रन बनाए। इसके जवाब में भारत 8 विकेट पर 313 रन ही बना पाया। वॉर्नर ने अपने 100वें वनडे में धमाकेदार शतक लगाकर इस मैच को यादगार बना लिया। भारत पांच मैचों की सीरीज में 3-1 से आगे हैं। सीरीज का अंतिम मैच 1 अक्टूबर को नागपुर में खेला जाएगा।

भारत आस्ट्रेलिया


लक्ष्य का पीछा कर रहे भारत को रहाणे और रोहित ने तेज शुरुआत दिलाई। रहाणे ने लगातार तीसरी फिफ्टी लगाई। इसके बाद रोहित ने भी फिफ्टी पूरी की। रिचर्डसन ने भारत को पहला झटका दिया जब उन्होंने रहाणे (53) को लांग ऑन पर फिंच के हाथों झिलवाया। उन्होंने रोहित के साथ पहले विकेट के लिए 106 रन जोड़े।भारत को दूसरा झटका तब लगा जब कप्तान विराट कोहली के साथ तालमेल गड़बड़ाने से रोहित शर्मा (65 रन, 1 चौका, 5 छक्के) रन आउट हुए। विराट कोहली (21) इसके बाद नाथन कोल्टर नाइल की गेंद को स्टंप पर खेल बैठे। हार्दिक पांड्‍या ने केदार जाधव के साथ पारी को संभाला। वे 41 रन बनाने के बाद जाम्पा की गेंद पर वॉर्नर को कैच थमा बैठे।
केदार जाधव 67 रन बनाकर रिचर्डसन के शिकार बने। इसके बाद मनीष पांडे (33) पर उम्मीदें टिक गई थी, लेकिन वे कमिंस की गेंद पर बोल्ड हो गए। धोनी 13 रन बनाकर रिचर्डसन की गेंद को स्टंप्स पर खेल बैठे।
इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। भारतीय गेंदबाज ऑस्ट्रेलियाई सलामी बल्लेबाजों को प्रभावित नहीं कर पाए। वॉर्नर ने लय में आने के बाद जमकर स्ट्रोक्स खेले। उन्होंने केदार जाधव की गेंद पर चौका लगाकर शतक पूरा किया। यह उनका वनडे में 14वां शतक है। वे 100वें वनडे में शतक लगाने वाले पहले ऑस्ट्रेलियाई तथा दुुनिया के आठवें बल्लेबाज बने। वॉर्नर 119 गेंदों में 12 चौकों और 4 छक्कों की मदद से 124 रन बनाकर केदार जाधव की गेंद पर लांग ऑन पर अक्षर पटेल को कैच थमा बैठे। वॉर्नर ने फिंच के साथ पहले विकेट के लिए रिकॉर्ड 231 रनों की भागीदारी की।
अभी भारतीय समर्थक खुशी मनाकर रूके भी नहीं थे कि उमेश यादव ने फिंच को चलता किया। फिंच ने उमेश की गेंद पर मिडऑन पर पांड्‍या को कैच दे दिया। वे 10 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 94 रन बनाकर आउट हुए और 6 रनों से शतक चूके।
अभी ऑस्ट्रेलिया इस सदमे से उबरा भी नहीं था कि कप्तान स्मिथ मात्र 3 रन बनाकर यादव के शिकार बने। इसके बाद उमेश यादव ने ट्रेविस हेड (29) और पीटर हैंड्‍सकॉम्ब (43) को चलता किया। उमेश यादव ने 71 रनों पर 4 विकेट लिए।
भारत ने मैच के लिए प्लेइंग इलेवन में तीन जबकि ऑस्ट्रेलिया ने दो बदलाव किए। भारत ने टीम में कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार की जगह अक्षर पटेल, मोहम्मद शमी और उमेश यादव को शामिल किया। ऑस्ट्रेलिया ने प्लेइंग इलेेवन में दो बदलाव कर ग्लेन मैक्सवेल की जगह मैथ्यू वेड को और एश्टोन एगर की जगह एडम जाम्पा को शामिल किया।

Advertisements

इसे भी पढ़ें-  Breaking: भारतीय महिला हॉकी टीम ने रचा इतिहास, ऑस्ट्रेलिया को हरा कर सेमीफाइनल में प्रवेश