विधायक संजय पाठक ने मां श्रीमती निर्मला पाठक की ओर से राम मंदिर के लिए दिया एक करोड़ 11 लाख 11 हजार 111₹ का समर्पण, प्रदेश में अब तक का सबसे बड़ा दान

Advertisements
  • विधायक संजय पाठक ने मां श्रीमती निर्मला पाठक की ओर से राम मंदिर के लिए दिया एक करोड़ 11 लाख 11 हजार 111₹ का समर्पण, प्रदेश में अब तक का सबसे बड़ा दान
  • संजय पाठक बोले-पूज्य पिता के आशीर्वाद से माता जी की तरफ से सेतुबंधन जैसे रामकाज में दे पाया नन्ही गिलहरी जैसा योगदान

कटनी। राममंदिर के लिए चल रहे निधी समर्पण में लगातार देश मे लोग अपने समर्पण के साथ रामकाज में जुटे हैं। मध्यप्रदेश में अब तक का सबसे बड़ा समर्पण विजयराघवगढ़ विधायक तथा पूर्व मंत्री संजय सत्येंद्र पाठक ने अपनी माताजी श्रीमती निर्मला पाठक जी की तरफ से राम मंदिर निर्माण के लिए एक करोड़ 11 लाख, 11 हजार 111 रुपये के समर्पण अर्थात दान दिये हैं।

प्रदेश में अब तक का सबसे बड़ा समर्पण
प्रदेश में अब तक समर्पण की यह राशि सर्वाधिक है। आज निर्मल सत्य गार्डन में समर्पण निधि कार्यक्रम में विधायक श्री पाठक ने अपनी माताजी श्रीमती निर्मला पाठक जी की तरफ से यह रामकाज के लिए यह समर्पण की घोषणा की।

इसे भी पढ़ें-  Story Of Dashahari Aam : दशहरी आम के जनक की: तीन सौ साल है इस पेड़ की उम्र, 1600 वर्ग फीट में है फैला, पढ़ें इससे जुड़ा इतिहास

पूज्य पिता के आशीर्वाद से यह छोटा सा रामकाज कर पाया
विधायक संजय सत्येंद्र पाठक ने पूज्य बाबूजी श्री सत्येंद्र पाठक जी का स्मरण करते हुए कहा कि पूज्य पिता के आशीर्वाद से ही मैं इस महान रामकाज में छोटा सा समर्पण दे पाया। उन्होनें कहा कि यह मेरा सौभाग्य है कि मां श्रीमती निर्मला पाठक जी की तरफ से श्री राम मंदिर के लिए मुझे यह अवसर प्राप्त हुआ। श्री पाठक ने कहा कि जगत के पालनहार के लिए तेरा तुझको अर्पण क्या लागे मेरा इसी को चरितार्थ करते सभी को सामर्थय अनुसार अपना समर्पण देना चाहिए।

सेतु बंधन में नन्हीं गिलहरी सा योगदान
यह न तो को चंदा का रूप है न ही दान का स्वरूप यह हम और हमारी सदियों से राम मंदिर के लिए संघर्षरत पीढ़ियों पूज्यनीय रामभक्तों के लिए समर्पण है। दुनिया मे सर्वाधिक भव्य राम मंदिर के निर्माण में इसका उपयोग ठीक वैसा ही है जैसा सेतु बंधन में नन्हीं गिलहरी का योगदान था। कल निधी समर्पण कार्यक्रम निर्मल सत्य गार्डन में आयोजित कार्यक्रम में शहर के कई रामभक्तों में अपना समर्पण देते हुए इसे अपना सौभाग्य बताया।

इसे भी पढ़ें-  Story Of Dashahari Aam : दशहरी आम के जनक की: तीन सौ साल है इस पेड़ की उम्र, 1600 वर्ग फीट में है फैला, पढ़ें इससे जुड़ा इतिहास

कटनी जिले के उद्योगपतियों व्यापारियों ने राम मंदिर निर्माण के लिए दिया 3 करोड़ से अधिक राशि समर्पण

अयोध्या में करोड़ों भक्तों के आराध्य प्रभु श्रीराम के मंदिर निर्माण के लिए ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास’ की ओर से चलाए जा रहे अंशदान अभियान में कटनी जिले के उद्योगपतियों व्यापारियों ने स्वस्फूर्त बैठक कर अपना-अपना अर्थ समर्पण देने का सौभाग्य प्राप्त किया किया। व्यापारी वर्ग द्वारा आयोजित बैठक में धन संग्रहण अभियान से जुड़े राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत प्रचारक श्री प्रदीप जी, विभाग प्रचारक किशोर बागड़िया, जिला कार्यवाहक अमित साहू की विशेष उपस्थित में सभी ने एकत्रित होकर किसी भी शुभ कार्य में सहयोग जीवन का मूल मंत्र है और किसी कठिन लक्ष्य को सरल बनाने का आसान तरीका की भावना से सामर्थ्य अनुसार एक ही बैठक में 3 करोड़ से अधिक की राशि जिसका आंकड़ा आगें भी बढ़ता जाने वाली है, का दान दिया।

इसे भी पढ़ें-  Story Of Dashahari Aam : दशहरी आम के जनक की: तीन सौ साल है इस पेड़ की उम्र, 1600 वर्ग फीट में है फैला, पढ़ें इससे जुड़ा इतिहास

इसी तरह बैठक में उपस्थित कटनी के व्यापारी वर्ग के प्रतिष्ठितजनों ने धर्म सम्प्रदाय की भावना से ऊपर उठकर मेरा भी प्रभु श्रीराम के प्रति समर्पण है की भावना से अपने सामर्थ्य से भी आगें आकर 3 करोड़ रुपयों से भी अधिक का समर्पण दिया । कई गणमान्य बंधुओं ने राम कार्य हेतु समर्पण निधि का दान दिया । उल्लेखनीय है कि श्री राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण हेतु उपरोक्त अभियान 15 जनवरी मकर संक्रांति से प्रारंभ होकर के 27 फरवरी तक अनवरत चलने वाला है ।

Advertisements