दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर परेड LIVE:पांडवनगर में पुलिस ने आंसू गैस छोड़ी; किसानों ने पथराव किया, पुलिस की गाड़ियां तोड़ीं

Advertisements

नई दिल्ली । तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में आज किसान टैक्टर परेड निकाल रहे हैं। सिंघु बॉर्डर और टीकरी बॉर्डर पर लोगों ने फूल बरसाकर किसानों का स्वागत किया।
नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान आज ट्रैक्टर परेड निकाल रहे हैं। गाजीपुर बॉर्डर, टीकरी बॉर्डर और सिंघु बॉर्डर से किसान दिल्ली के लिए रवाना हो चुके हैं। कई किसान ट्रैक्टर के साथ आगे बढ़ रहे हैं तो कई किसान पैदल भी मार्च कर रहे हैं। मंगलवार सुबह सिंघु बॉर्डर पर किसान बैरिकेड्स तोड़कर दिल्ली के लिए रवाना हो गए। बाद में पुलिस ने कई जगहों पर खुद भी बैरिकेड्स हटा दिए। इससे पहले सोमवार रात को ही तीनों ही बॉर्डरों पर हजारों की संख्या में किसान पहुंच गए थे।

नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसान आज दिल्ली के 3 बॉर्डर- सिंघु, टीकरी और गाजीपुर से ट्रैक्टर मार्च निकाल रहे हैं। गाजीपुर बॉर्डर से निकले किसानों को पुलिस ने नोएडा मोड़ पर रोक दिया, उन पर आंसू गैस के गोले छोड़े। किसानों ने भी पुलिस पर पथराव कर दिया और पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड की।

पुलिस का दावा है कि किसानों ने पांडव नगर पुलिस पिकेट पर ट्रैक्टर चढ़ाने की कोशिश की। पुलिस ने यह दावा भी किया कि निहंगों ने तलवार से पुलिसकर्मियों पर हमले की कोशिश की।

गाजीपुर बॉर्डर से निकले किसान और पुलिस आमने-सामने हो गए हैं। किसान आंसू गैस के गोलों को उठाकर पुलिस की तरफ फेंक रहे हैं।
सिंघु बॉर्डर से लगातार ट्रैक्टर निकल रहे हैं। अभी तक किसान दिल्ली पुलिस के दिए रूट पर हैं। ये लोग आगे एक टी पॉइंट पर रुक गए हैं। माना जा रहा है कि इनका रिंग रोड से एंट्री करने का प्लान है। इसलिए टी पॉइंट से तय रूट पर बढ़ने की जगह वहीं ट्रैक्टरों की संख्या बढ़ने का इंतजार कर रहे हैं ताकि एक साथ दिल्ली में घुस सकें।
सिंघु बॉर्डर से निकली ट्रैक्टर परेड के आगे घोड़ों पर निहंग फौज चल रही है। सिंघु और टीकरी बॉर्डर से किसानों के जत्थे पैदल भी आगे बढ़ रहे हैं।
रास्ते में लोग ट्रैक्टर परेड का स्वागत कर रहे हैं। स्वरूप नगर में लोगों ने किसानों पर फूल बरसाए। ये जगह सिंघु बॉर्डर के करीब 14 किमी आगे है। नांगलोई में लोग ढोल बजाते और नाचते हुए दिखे।
किसानों ने एक लाख ट्रैक्टर जुटने का दावा किया
पुलिस ने किसानों को सिर्फ 5 हजार ट्रैक्टरों के साथ रैली निकालने की मंजूरी दी है। लेकिन, अकेले सिंघु बॉर्डर पर ही 20 हजार से ज्यादा ट्रैक्टर पहुंच गए। किसानों ने दावा किया था कि सिंघु, टीकरी और गाजीपुर पर करीब एक लाख ट्रैक्टर जुटेंगे।

कड़ाके की सर्दी के बीच उन्होंने पूरी रात वहीं गुजारी।\

तस्वीर टीकरी बॉर्डर से आगे नागलोई की है। हजारों की संख्या में यहां से किसान दिल्ली के निकल रहे हैं। बीच में पुलिस रोकने की कोशिश कर रही है।

दिल्ली के स्वरूप नगर में लोगों ने किसानों पर फूल बरसाकर उनका स्वागत किया। ये जगह सिंघु बॉर्डर से करीब 14 किलोमीटर आगे है।

नोएडा के पांडव नगर में किसानों ने पुलिस पर पथराव किया है। कुछ गाड़ियां भी तोड़ी हैं। जिसके बाद पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े।

Advertisements