दूसरा सप्ताह: जबलपुर में आज 20 केंद्रों पर स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगा टीका

Advertisements

जबलपुर। जिले में आज से कोरोना टीकाकरण का दूसरा सप्ताह शुरू हो रहा है। शासकीय स्वास्थ्य केंद्रों समेत निजी चिकित्सालयों में भी टीके लगेंगे। पहले सप्ताह में जहाँ 7 केंद्रों पर स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया गया, वहीं आज 20 केंद्रों पर अधिकतम 2500 स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाने का टारगेट विभाग ने तय किया है।

विभाग से मिली जानकारी के अनुसार सभी केंद्रों पर टीकाकरण की तैयारियाँ पूरी कर ली गईं हैं। 5 केंद्र ऐसे हैं, जहाँ वैक्सीनेशन के 2 सेशन होंगे यानी 200 स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन लगेगी। उल्लेखनीय है कि पहले चरण में 1969 स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन का पहला डोज दिया चुका है। इस हफ्ते में आज के अलावा बुधवार, गुरुवार और शनिवार को टीका लगेगा।

इन केंद्रों पर टीकाकरण

मेडिकल कॉलेज, विक्टोरिया, सेंट्रल रेलवे, एल्गिन, एमपी पॉवर मैनेजमेंट कंपनी स्वास्थ्य केंद्र, मनमोहन नगर डीसीएचसी, बरेला पीएचसी के साथ गोसलपुर, पाटन, कुंडम, मझौली, पनागर और शहपुरा स्थित सीएचसी में टीका लगेगा। इसके अलावा शहर में सुखसागर प्राइवेट मेडिकल कॉलेज, जबलपुर हॉस्पिटल, सिटी हॉस्पिटल, शैल्बी हॉस्पिटल, अनंत हॉस्पिटल, जामदार हॉस्पिटल और मेट्रो हॉस्पिटल में भी वैक्सीनेशन होगा।

पोलियो टीकाकरण: 31 से शुरू होगा अभियान

कोरोना टीकाकरण के चलते इस वर्ष स्थगित हुआ पोलियो टीकाकरण अभियान 31 जनवरी से शुरू होगा। जिले में तीन दिनों में पाँच वर्ष से कम उम्र के 386268 बच्चों को पोलियो की दवा पिलाने का लक्ष्य विभाग ने निर्धारित किया है। पहले दिन 31 जनवरी को पोलियो रविवार के तहत 2268 बूथों पर दवा पिलाई जाएगी।

जानकारी के अनुसार कोरोना के चलते स्कूल बंद हैं, ऐसे में आँगनबाड़ियों पर बूथ बनाए जा रहे हैं। दूसरे और तीसरे दिन यानी 1 और 2 फरवरी को घर-घर जाकर पोलियो की खुराक दी जाएगी। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. एसएस दाहिया ने बताया कि पूरे देश में पल्स पोलियो अभियान का यह 25वाँ वर्ष है। जबलपुर 2008 में पोलियो मुक्त हो चुका है। इस वर्ष अभियान में 47 ट्रांजिक्ट टीमें होंगी जो विशेष तौर पर बस अड्डों, बड़े चौराहों आदि पर दवा पिलाएँगी, वहीं मोबाइल टीमों का भी गठन किया गया है।

टारगेट पूरा होने पर संशय

बताया जा रहा है कि 22 हजार स्वास्थ्य कर्मियों में से लगभग 5 प्रतिशत ऐसे हैं जिनमें गर्भवती महिलाएँ, किसी बीमारी से पीड़ित एवं अन्य कारणों से वैक्सीन न लगवाने वाले स्वास्थ्य कर्मी शामिल हैं। ऐसे में टारगेट पूरा होने पर संशय नजर आ रहा है।

जिले में 22 हजार के लगभग स्वास्थ्य कर्मियों को टीके के लिए अप्रूवल मिला है। आज से शुरू हो रहे दूसरे सप्ताह में प्रतिदिन 2500 हैल्थ वर्कर्स को टीका लगाने का लक्ष्य है।

-डॉ. एसएस दाहिया, जिला टीकाकरण अधिकारी

Advertisements