जल्द मिलेगी खुशखबरी, बढ़ेगी पगार होगी JOBS की बहार

Advertisements

नई दिल्ली: 2020 में महामारी से प्रभावित कर्मचारियों को, जिन्होंने अपनी नौकरी को बरकरार रखा है। उन्हें वेतन वृद्धि और बोनस नहीं मिले। हालांकि कुछ कंपनियों ने थोड़ा-बहुत सैलरी हाईक और बोनस दिए थे। हालांकि 2021 में अधिकांश कंपनियां वेतन में बढ़ोतरी करने जा रही है। क्योंकि 60% कंपनियां वेतन वृद्धि और बोनस भुगतान करना चाहती हैं। सर्वे में शामिल नियोक्ताओं में से 30% अभी भी इस बात पर विचार कर रहे हैं कि क्या उनके कर्मचारियों को लाभ दिया जाए।

इकोनोमिक्स टाइम्स ने माइकल पेज टैलेंट ट्रेंड्स 2021 के मुताबिक बताया कि 53% कंपनियां इस साल नए लोगों को रखना चाहती हैं। सर्वे में 12 एशिया प्रशांत बाजार में 5,500 कर्मचारियों और 21,000 श्रमिकों को शामिल किया गया।

भारत से 660 कंपनियों और 4600 कर्मचारियों का सर्वे में शामिल किया गया था।

सर्वे के अनुसार, 55% कंपनियां अपने कर्मचारियों के लिए बोनस का भुगतान कर रही हैं, जिसमें से 44% बोनस के रूप में एक महीने से अधिक का वेतन देना चाहती हैं, जबकि 46% बोनस में एक महीने या उससे कम देने की बात कही है।

हालांकि कई सेक्टर्स और कंपनियां में वेतन वृद्धि का प्रतिशत अलग-अलग होता है। सर्वेक्षण के अनुसार नियोक्ता हेल्थ केयर और लाइफ साइंस में 8%, FMCG में 7.6%, ई-कॉमर्स और इंटरनेट 7.5% और टैक्नोलॉजी में 7.3% और बैंकिंग और वित्तीय सेवाओं में 6.8% देना चाहते हैं। ।

प्रोफेशनल सर्विस में 6.7%, रिटेल में 6.1%, परिवहन और वितरण में 6% मिल सकते हैं, जबकि वे औद्योगिक और विनिर्माण में 5.9%, प्राकृतिक संसाधनों और ऊर्जा में 4.9%, और संपत्ति और कंस्ट्रक्शन में 5.3% अप्रेजल प्राप्त कर सकते हैं।

प्रबंध निदेशक, माइकल पेज इंडिया के मैनेजिंग एडिटर निकोलस डुमौलिन ने ईटी को बताया कि महामारी ने प्रत्येक सेक्टर को अलग तरह से हिट किया है। स्थानीय कंपनियां वेतन वृद्धि के मोर्चे पर और अधिक लचीला रूख अपनाएगी, वैश्विक बहुराष्ट्रीय कंपनियों को वैश्विक दबाव और मानकों के आधार पर ड्राइव किया जाएगा। 2020 में हायरिंग में 18% की गिरावट के बाद 53% कंपनियां भारत में इस साल हायर करना चाह रही हैं।

 

Advertisements