Farmer Protest: किसान आंदोलन के कारण सिंघु और टिकरी बॉर्डर बंद, जान लें यातायात अपडेट्स

Advertisements

दिल्ली से सटी विभिन्न राज्यों की सीमाओं पर तीनों कृषि कानूनों के विरोध में बीते दो महीने से अधिक समय से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। दिल्ली-गाजियाबाद और दिल्ली-नोएडा सीमा पर यातायात की स्थिति मंगलवार को भी पहले जैसी बनी रही। दिल्ली की ओर जाने वाले कैरिजवे पर वाहनों की आवाजाही किसान समूहों द्वारा अवरुद्ध होती रही। हालांकि, सिंघु और टिकरी की सीमाएं पूरी तरह से अवरुद्ध बनी हुई हैं।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि दिल्ली से नोएडा की ओर जाने वाला यातायात चिल्ला बॉर्डर पर हमेशा की तरह सुचारू है, जबकि दिल्ली की ओर जाने वाले मार्ग अवरुद्ध है। किसानों ने दिल्ली-मेरठ एलिवेटेड एक्सप्रेसवे पर गाड़ी को रोकना जारी रखा, जबकि दिल्ली से बाहर निकलने वालों के लिए एक अन्य मार्ग खुला है।

अधिकारी ने कहा कि हम कानून और व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए सीमा पर सुरक्षा कर्मियों की पर्याप्त तैनाती कर रहे हैं। गाजीपुर बॉर्डर पर, NH-24 सर्विस लेन जिसे 27 नवंबर को किसानों ने बंद कर दिया था, मंगलवार को भी यातायात के लिए बंद रहा। चीला और गाजीपुर सीमाओं के अलावा, सात सीमाएं जो पूरी तरह से अवरुद्ध बनी हुई हैं। उनमे सिंघु, टिकरी, औचंदी, झारोदा, पियाओ मनियारी और मंगेश बॉर्डर शामिल हैं।

ट्रैफिक पुलिस ने अपनी सलाह में लोगों से कहा कि वे दिल्ली आने के लिए वैकल्पिक मार्ग लें जो कि चीला, अनाद विहार, डीएनडी, अप्सरा और भोपरा सीमाओं से होकर जाएं। यातायात पुलिस ने कहा कि वर्तमान में, हरियाणा और दिल्ली के बीच की सीमाएं जो यातायात के लिए खुली हैं, उनमें झारोदा (केवल एकल कैरिजवे), दौराला, कापसहेड़ा, बदुसराय, राजोखरी, NH-8, बिजवासन/बजघेरा, पालम विहार और डूंडाहेड़ा बॉर्डर शामिल हैं।

दिल्ली यातायात पुलिस ने भी सोमवार को ट्वीट किया, किसान विरोध के कारण नोएडा और गाज़ियाबाद से दिल्ली की ओर आने वाले यातायात के लिए चीला और गाजीपुर सीमाएं बंद हैं। कृपया आनंद विहार, डीएनडी, अप्सरा, भोपरा और लोनी सीमाओं के माध्यम से दिल्ली आने के लिए वैकल्पिक मार्ग लें।

 

 

 

Advertisements